Monday , July 15 2024
Breaking News

वर्तमान राज्य सरकार के 9 साल के कार्यकाल में लगभग 1 लाख 6 हजार भर्तियां हुई- मुख्यमंत्री।

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि वर्तमान राज्य सरकार ने मेरिट पर सरकारी नौकरियों में भर्ती की प्रक्रिया को अपनाते हुए क्लास-1 व 2 की 11,500 तथा क्लास-3 व 4 की 1 लाख 6 हजार पदों पर भर्तियां की गई हैं। इसके अतिरिक्त क्लास-1 व 2 के 3200 पदों के लिए विज्ञापन जारी किया जा चुका है और ग्रुप सी व डी के लगभग 61 हजार पदों पर भर्तियां पाइपलाइन में हैं। इस प्रकार हमारी सरकार में कुल 1 लाख 67 हजार भर्तियां हो जाएंगी। जबकि कांग्रेस के 10 साल के कार्यकाल में एचपीएससी की 8700 तथा एचएसएससी की 93 हजार ही भर्तियां हुई थी।

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने सोमवार को हरियाणा विधानसभा के शीतकालीन सत्र के दौरान कहा कि  वर्तमान राज्य सरकार ने मेरिट पर सरकारी नौकरियों में भर्ती की प्रक्रिया को अपनाते हुए क्लास-1 व 2 की 11,500 तथा क्लास-3 व 4 की 1 लाख 6 हजार पदों पर भर्तियां की गई हैं। इसके अतिरिक्त क्लास-1 व 2 के 3200 पदों के लिए विज्ञापन जारी किया जा चुका है और ग्रुप सी व डी के लगभग 61 हजार पदों पर भर्तियां पाइपलाइन में हैं। इस प्रकार हमारी सरकार में कुल 1 लाख 67 हजार भर्तियां हो जाएंगी। जबकि कांग्रेस के 10 साल के कार्यकाल में एचपीएससी की 8700 तथा एचएसएससी की 93 हजार ही भर्तियां हुई थी।   उन्होंने कहा कि हरियाणा कौशल रोजगार निगम को लेकर भी विपक्ष द्वारा लगातार भ्रम फैलाया जा रहा है, जबकि वर्तमान राज्य सरकार ने पारदर्शी तरीके से नौकरी देने के लिए ठेकेदारी प्रथा को खत्म करते हुए हरियाणा कौशल रोजगार निगम गठित किया है।

इस सरकारी प्लेटफॉर्म के तहत 1,05,728 पुरानी मैनपावर को समायोजित किया गया है और 12,885 नये लोगों को नौकरी दी गई है। उन्होंने कहा कि विपक्ष द्वारा प्रदेश में बेरोजगारी के आंकड़ों को लेकर की जा रही बयानबाजी पूरी तरह से तथ्यों से परे हैै। विपक्ष हमेशा एक निजी संस्था, सीएमआईए के आंकड़ों पर खेलता है, जबकि उसके आंकड़े हमेशा बदलते रहते हैं। एक माह पहले यह संस्था हरियाणा में बेरोजगारी का 22 प्रतिशत, अगले ही माह 34 प्रतिशत और फिर 28 प्रतिशत का आंकड़ा दर्शाती है। जबकि इसी संस्था ने नवंबर माह का आंकड़ा 8 प्रतिशत दर्शाया है। इंटरनेशनल लेबर ऑर्गेनाइजेशन ने भी बेरोजगारी का आंकड़ा 9 प्रतिशत बताया है, हालांकि यह भी सैंपल आधारित होता है। उन्होंने कहा कि परिवार पहचान पत्र में दर्ज परिवारों के डाटा में लोगों ने स्व घोषित बेरोजगारी बताई है। उन्होंने कहा कि हरियाणा सरकार का लक्ष्य जीरो ड्रॉप आउट का है, इसके लिए 6 से 18 आयु वर्ष के बच्चों को स्कूल शिक्षा विभाग के माध्यम से ट्रैक किया जाएगा और उन्हें स्कूलों में शिक्षा ग्रहण करवाई जाएगी। हालांकि कुछ बच्चे गुरुकुल या मदरसों में भी जाते हैं, उनकी भी जानकारी ली जाएगी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि हर जिले में एक मेडिकल कॉलेज खोलने की योजना के अंतर्गत पलवल, फतेहाबाद, चरखी दादरी और कैथल में भी जल्द ही इस योजना को अमलीजामा पहनाया जाएगा। इन जिलों में भी मेडिकल कॉलेज के लिए जमीन चिह्नित कर ली गई है और कैथल में शिलान्यास भी किया जा चुका है। चरखी दादरी के गांव घसौला में भी जमीन का चयन किया जा चुका है और आगामी प्रक्रिया को जल्द ही पूरा किया जाएगा। उन्होंने कहा कि हमारी सरकार जनहित में योजनाएं बना रही है और विकसित भारत संकल्प यात्रा के दौरान जनता से भी विकास परियोजनाओं से संबंधित प्रस्ताव लिये जा रहे हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि ग्रामीण विकास के लिए ई-टेंडरिंग प्रणाली कारगर साबित हुई है।

हजारों की संख्या में ई-टेंडरिंग पर कार्य शुरू हो गए हैं। 5 लाख रुपये तक के कार्य क्वोटेशन के माध्यम से पंचायतें स्वयं करवा रही हैं और इससे ऊपर की राशि के कार्य ई-टेंडरिंग के माध्यम से हो रहे हैं। उन्होंने कहा कि पहले जिला उपायुक्त की अध्यक्षता में गठित कमेटी को निर्माण सामग्री के रेट तय करने में कठिनाई आती थी, अब सरकार ने इसमें छूट देते हुए प्रावधान किया है कि जिले में एक स्थानीय कमेटी अपने जिले में एक रेट तय करेगी। उन्होंने कहा कि वर्तमान सरकार पंचायती राज संस्थाओं व शहरी निकायों को सशक्त बनाते हुए विकास कार्यों को गति देने के लिए कृतसंकल्प है। मुख्यमंत्री ने कहा कि जो आयोग और पशुपालन एवं डेयरी विभाग की ओर से आधारभूत ढांचा व एक साल के चारे का पैसा दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने बेसहारा गौवंश की देखभाल के लिए गौसेवा आयोग के बजट को 40 करोड़ रुपये से बढ़ाकर 400 करोड़ रुपये किया है।

हरियाणा लोक सेवा आयोग की भर्ती प्रक्रिया में विपक्ष द्वारा पर्ची-खर्ची के आरोप के संदर्भ में मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने पवित्र ग्रंथ श्रीमद्भागवत गीता पर हाथ रखकर सौगंध खाते हुए कहा कि अगर किसी भी स्तर के कोई भी अधिकारी की संलिप्ता पाई गई, तो उसे बख्शा नहीं जाएगा, तुरंत बरखास्त किया जाएगा। मुख्यमंत्री ने कांग्रेस पार्टी पर कटाक्ष करते हुए कहा कि वर्तमान में कांग्रेस पार्टी की हालत ऐसी हो गई है कि भण्डारे में जाएं तो पूड़ी खत्म, बाहर आए तो चप्पल गायब।

About admin

Check Also

सवर्गीय राजा वीरभद्र सिंह की पुण्यतिथि के मौके पर दौड़ का किया गया आयोजन

आज हिमाचल प्रदेश के 6 बार के मुख्यमंत्री रहे सवर्गीय राजा वीरभद्र सिंह की पुण्यतिथि …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *