Sunday , July 14 2024
Breaking News

Haldwani Violence: हल्द्वानी में अवैध मजार और मस्जिद को तोड़ने पर भड़की हिंसा, हुई चार की मौ*त….

उत्तराखंड के नैनीताल जिले के हल्द्वानी में अवैध मजार और मस्जिद को तोड़ने पर हिंसा भड़क गई। दरअसल, हल्द्वानी शहर के अंदर अवैध मस्जिद और मजार तोड़ने को लेकर प्रशासन और स्थानीय लोग आमने-सामने आ गए हैं। इस बात के चलते वहीं उपद्रवियों ने गाड़ियों में आग लगा दी। आगजनी की घटना के बाद चारों ओर अफरा-तफरी मच गई और वहीं इस घटना के बाद घटनास्थल पर हिंसा और भी ज्यादा बढ़ने लगी। जिस कारण हालत बेकाबू होने लगे जिसे देखते हुए भारी संख्या में पुलिस फोर्स तैनात की गई और आंसू गैस का लगातार प्रयोग हो रहा है। जिले की पूरी फोर्स सभी पुलिस और प्रशासन के अधिकारी मौके पर मौजूद हैं। इस घटना को लेकर DGP अभिनव कुमार ने फोन पर बात करते हुए बताया कि हम स्थिति कंट्रोल करने में लगे हुए हैं और स्थिति बिगड़ने नहीं दी जाएगी।

आपको बता दें कि हल्द्वानी के थाना बनभूलपुरा क्षेत्र के अंतर्गत मलिक के बगीचे में अवैध मदरसे और नमाज स्थल को बीते कल (8 फरवरी) को नगर निगम की टीम ने JCB मशीन लगाकर ध्वस्त कर दिया। इस दौरान नगर आयुक्त पंकज उपाध्याय, सिटी मजिस्ट्रेट ऋचा सिंह, SDM परितोष वर्मा समेत नगर निगम की बड़ी संख्या में टीम मौजूद रही। जहां पर अवैध मदरसे एवं नमाज स्थल को जेसीबी द्वारा ध्वस्त कर दिया गया। जिसके बाद इस कार्रवाई के दौरान मलिक के बगीचे के पास के रहने वाले तमाम अराजक तत्वों ने पुलिस प्रशासन और पत्रकारों के ऊपर जमकर पथराव किया। जिस इस घटना में कई पुलिसकर्मी और पत्रकार घायल भी हुए हैं, इस घटना के बाद पुलिस ने अराजक तत्वों को लेकर बलपूर्वक कार्रवाई की और आंसू गैस भी छोड़ी।

इस दौरान एसएसपी नैनीताल प्रह्लाद मीणा, थाना बनभूलपुरा एसओ नीरज भाकुनी, एसओ मुखानी एसओ प्रमोद पाठक, कालाढूंगी एसओ नंदन सिंह रावत समेत भारी संख्या में पुलिस फोर्स तैनात रही। नगर आयुक्त पंकज उपाध्याय ने बताया अवैध मदरसे और नमाज वाली जगह पूरी तरह अवैध है। जिसके पास एक तीन एकड़ जमीन पर नगर निगम ने कब्जा पूर्व में ले लिया था लेकिन अवैध मदरसे और नमाज स्थल को सील कर दिया था। अब इसे ध्वस्त कर दिया गया है, कार्रवाई के दौरान पथराव करने वाले अराजक तत्वों को चिन्हित किया जा रहा है और उनकी गिरफ्तारी की जा रही है।

वही, हल्द्वानी में मदरसे पर बुलडोजर एक्शन को लेकर भड़की हिंसा में अब तक 4 लोगों की मौत हो चुकी है और वही 100 से भी अधिक लोगों के घायल होने की खबर सामने आई हैं। गुरुवार यानी बीते कल (8 फरवरी, 2024) को जब पुलिस प्रशासन की टीम कार्रवाई के लिए बनभूलपुरा क्षेत्र में बने मदरसे और मस्जिद को हटाने के लिए पहुंची तो स्थानीय लोगों ने विरोध जताया और पुलिस प्रसाशन और वह पर मौजूद पत्रकारों पर पथराव शुरू कर दिया. जिसक कारण कई पुलिसकर्मी और पत्रकार घायल हुए हैं। वही, स्थिति बिगड़ती चली गई और मकानों-दुकानों में तोड़फोड़, आगजनी और गोलीबारी की घटनाएं सामने आने लगीं। इस घटने के कारण पूरे शहार में तनाव फैल गया, जिसके बाद कर्फ्यू लगाना पड़ा और दंगाइयों को दिखते ही उन्हें गोली से मारने का आदेश जारी कर दिया गया। हालांकि, इस घटना के बाद से ही घटनास्थल पर बेहद संवेदनशील माहौल बना हुआ है।

About News Desk

Check Also

सवर्गीय राजा वीरभद्र सिंह की पुण्यतिथि के मौके पर दौड़ का किया गया आयोजन

आज हिमाचल प्रदेश के 6 बार के मुख्यमंत्री रहे सवर्गीय राजा वीरभद्र सिंह की पुण्यतिथि …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *