Wednesday , June 12 2024
Breaking News

Haryana : पत्नी के चरित्र पर पति को हुआ शक, पति ने उठाया खौफनाक कदम…..

हरियाणा के फरीदाबाद में एक पति ने अपनी ही पत्नी के चरित्र पर शक होने के चलते उस पर बेलन से जान लेवा हमला कर दिया और खुद उसे फरीदाबाद के बादशाह खान सिविल अस्पताल में इलाज के लिए लेकर पहुंचा। जिसे डॉक्टरों ने प्राथमिक उपचार देने के बाद दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल के लिए रेफर कर दिया। वहीं आरोपी पति का कहना हैं कि उसे अपने किए पर कोई पछतावा नहीं है।

आपको बता दे की घटना फरीदाबाद के सूरजकुंड इलाके में पड़ने वाले मेवला महाराजपुर की सोमवार की रात की है। आरोपी पति इंद्रजीत ने खुद यह खुलासा करते हुए बताया की उसकी पत्नी का चरित्र ठीक नहीं है। इससे पहले भी वह किसी गैर मर्द के साथ पकड़ी गई थी तब उसने उसे माफ कर दिया था लेकिन आज वह जब घर आया तो उसके ही 12 साल के बेटे ने बताया कि मां आज भी किसी और गैर मर्द के साथ थी। बेटे की बात सुनकर इंद्रजीत का गुस्सा सातवें आसमान पर चढ़ गया और उसने घर में रखे रोटी बनाने वाले बेलन से अपनी पत्नी के सिर पर ताबड़तोड़ हमला कर दिया जिसके चलते वह बुरी तरह लहूलुहान हो गई। इंद्रजीत ने बताया की वह काफी नशे में था। वह खुद अपनी पत्नी रेखा को फरीदाबाद के बादशाह खान सिविल अस्पताल में लेकर पहुंचा है। वही इंद्रजीत ने हमले की वारदात को कबूलते हुए कहा कि उसे अपने किए पर कोई पछतावा नहीं है भले उसकी पत्नी मर ही क्यों न जाए ।

वहीं इस मामले में पीड़िता पत्नी रेखा ने बताया कि उनके पड़ोस में एक लड़का रहता है उसकी केवल उससे कभी कभी बातचीत होती थी। हालांकि, जब उसके पति ने उसे मना किया तो उसने उसे बोलना भी छोड़ दिया था लेकिन आज फिर उसकी नंद सत्तो- नंदोई किशन लाल और पति ने उस पर झूठे आरोप लगाते हुए बेलन और लात घूंशों से बुरी तरह पीटा है। वहीं इस मामले में पुलिस प्रवक्ता सूबे सिंह ने बताया की फिलहाल आरोपी पति द्वारा उसकी पत्नी को फरीदाबाद के ही एक निजी अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती करवाया गया है। पीड़िता के बयान लेने के बाद ही आरोपी पति के खिलाफ आगे की कारवाही की जाएगी।

 

About News Desk

Check Also

छत्रगलां के आतंकी हमले म, सेना के पांच जवान, एक SPO घायल, ऑपरेशन जारी

कठुआ-भद्रवाह की सीमा पर स्थित छत्रगलां टॉप में आतंकियों ने नाका पार्टी पर हमला कर …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *