होली के दिन 2 गुटों में हुई अंधाधुंध फायरिंग, 1 फौजी समेत 3 की मौत

anvnews

हांसी (हिसार)। हांसी के शेखपुरा में होली के दिन कुछ लोगों द्वारा की गई अंधाधुंध फायरिंग में तीन लोगों की मौत हो गई और तीन घायल हो गए। घायलों में एक ही हालत गंभीर बनी हुई है। घायलों को उपचार के लिए अलग-अलग अस्पतालों में दाखिल कराया गया है। घटना के बाद तनाव को देखते हुए गांव में भारी पुलिस बल तैनात किया गया है। देर रात तक पुलिस ने की आरोपियों को पकड़ने के लिए छापेमारी...घटना पुरानी रंजिश को लेकर हुई। सवेरे दोनों गुटों में किसी बात को लेकर कहा-सुनी हो गई। लोगों ने बीच-बचाव कर दोनों गुटों को किसी तरह शांत कर दिया। लोग जब मौके से चले गए तो करीब आधा दर्जन लोग वापस आए और अंधाधुंध फायरिंग शुरू कर दी। कोई कुछ समझ पाता, इससे पहले छह लोग जमीन पर लहूलुहान हालत में पड़े दिखाई दिए। सभी लोगों को उपचार के लिए सिविल अस्पताल लाया गया। जहां उनकी हालत को देखते हुए हिसार रेफर कर दिया। हिसार पहुंचने के बाद तीन लोगों की मौत हो गई। पुलि आरोपियों को पकड़ने के लिए रात भर छापेमारी करती रही। मरने वालों में राम कुमार कसाना, मुकेश और प्रदीप हैं। कसाना वामपंथी श्रमिक संगठन सीटू से लंबे समय तक जुड़े रहे और श्रमिकों के हितों की आवाज उठाते रहे। प्रदीप सैनिक बताया जा रहा है और होली पर छुट्टी लेकर घर आया हुआ था। मुकेश और प्रदीप चचेरे भाई बताए जा रहे हैं। घायलों में एक महेंद्र को भी गोली लगी है और वह हिसार में दाखिल है। घटना की सूचना पाकर पुलिस मौके पर पहुंची।तनाव की स्थिति को देखते हुए मौके पर भारी पुलिस बल तैनात किया गया। पुलिस अधिकारी भी मौके पर पहुंचे और स्थिति का जायजा लिया। सदर थाना प्रभारी उदयभान ने बताया कि फायरिंग में सुभाष गुर्जर और उसके साथियों का नाम सामने आया है। घटना पुरानी रंजिश को लेकर हुई। सवेरे दोनों गुटों में किसी बात को लेकर झगड़ा हुआ था, जिसके बाद दोनों को अलग कर दिया गया। बाद में यह घटना हो गई। दोनों गुटों के लोग एक ही समुदाय के बताए जा रहे हैं।

anvnews anvnews anvnews anvnews
anvnews
anvnews