आज तय होगा UP का CM, मनोज सिन्हा-केशव मौर्य समेत रेस में 6 नाम

anvnews

लखनऊ/वाराणसी. उत्तर प्रदेश का सीएम कौन होगा, इसका एलान शनिवार को होगा। शाम 4 बजे लखनऊ के लोकभवन में होने वाली विधायक दल की मीटिंग में इसका फैसला होगा। यहां सेंट्रल अॉब्जर्वर के तौर पर वेंकैया नायडू और पार्टी के नेशनल जनरल सेक्रेटरी भूपेंद्र यादव सीएम का नाम तय करने के लिए मौजूद रहेंगे। रविवार को कांशीराम स्मृति उपवन में शपथ ग्रहण समारोह होगा। इस बीच, सीएम पद के दावेदारों की रेस में सबसे आगे चल रहे यूनियन मिनिस्टर मनोज सिन्हा ने शनिवार सुबह बनारस में काल भैरव और बाबा विश्वनाथ के दर्शन किए। शपथ ग्रहण समारोह के टाइम में बदलाव...

- बता दें, गवर्नर राम नाइक ने शुक्रवार को लखनऊ में कहा था कि यूपी के नए सीएम कैबिनेट के सहयोगियों के साथ 19 मार्च को शाम 5 बजे कांशीराम स्मृति उपवन में शपथ लेंगे।
- हालांकि, बाद में समारोह के टाइम में बदलाव किया गया और अब शपथ ग्रहण समारोह रविवार दोपहर 2.15 बजे होगा।
मोदी की वजह से बड़े स्टेज की जरूरत
- अफसरों का कहना है कि समारोह में पीएम मोदी के शामिल होने पर बड़े स्टेज की जरूरत पड़ेगी। दो स्टेज भी बनाए जा सकते हैं।
एक स्टेज पर शपथ ग्रहण होगा, जिस पर सीएम के अलावा शपथ लेने वाले विधायक रहेंगे। दूसरा स्टेज पीएम मोदी समेत करीब 30 वीवीआईपी के लिए बनेगा।
9000 वर्ग मीटर में बनेगा पंडाल
- जानकारी के मुताबिक, स्मृति उपवन में 9 हजार वर्ग मीटर में पंडाल बनाया जा रहा है।
- स्टेज पर पीएम और बाकी वीवीआईपी रहेंगे, जबकि पंडाल में विधायक और वीआईपी के बैठने का इंतजाम रहेगा।
ऐसी होगी सिक्युरिटी
- शपथ ग्रहण समारोह के लिए 7 एसपी, 24 एएसपी, 50 डीएसपी, 550 इंस्पेक्टर, 3370 सिपाही, 18 कंपनी पैरा मिलिट्री फोर्स, 16 कंपनी पीएसी और 500 ट्रैफिक पुलिस के जवान तैनात किए जाएंगे। इसके अलावा, आईजी जोन लखनऊ को नोडल अफसर बनाया गया है।
- बताया जा रहा है कि पूरा प्रोग्राम डीजी सिक्युरिटी की देख-रेख में ही होगा।
देर रात दिनेश शर्मा को बुलाया गया दिल्ली
- यूपी में सीएम बनाए जाने को लेकर अब कई नाम मीडिया में सामने आ चुके हैं। इसमें मनोज सिन्हा, राजनाथ सिंह, केशव मौर्य समेत कई नाम हैं।
- मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, शुक्रवार देर रात पार्टी के नेशनल वाइस प्रेसिडेंट दिनेश शर्मा को दिल्ली बुलाया गया, लेकिन शर्मा इस पर पूछे गए सवाल को टाल गए। उन्होंने कहा कि मैं वाइस प्रेसिडेंट हूं, दिल्ली आता रहता हूं।
अब ये हैं समीकरण
1) मनोज सिन्हा : खुद को रेस से बाहर बता रहे हैं।
2) राजनाथ सिंह : अगला सीएम बनने की अटकलों को फालतू करार दे चुके हैं।
3) केशवप्रसाद मौर्य : अमित शाह ने कहा कि अगला सीएम माैर्य की पसंद का होगा। इससे माना गया कि अब मौर्य भी दौड़ से बाहर हैं। लेकिन मौर्य ऐसा नहीं मान रहे।
ये भी हैं दौड़ में
सिद्धार्थनाथ सिंह
- सिद्धार्थनाथ सिंह इलाहाबाद की पश्चिमी विधानसभा से विधायक हैं। उन्हें 14 मार्च की शाम को इलाहाबाद से सीधे दिल्ली आने के लिए कहा गया। उनके साथ प्लस प्वाइंट ये है कि वो लाल बहादुर शास्त्री के पोते हैं। वो बीजेपी में पिछले 14 साल से हैं। बंगाल में पार्टी के प्रभारी हैं। वहां लोकल बॉडी इलेक्शन में बीजेपी का परफॉर्मेंस सुधार चुके हैं।
दिनेश शर्मा
- बीजेपी के नेशनल वाइस प्रेसिडेंट हैं। 2014 लोकसभा चुनाव के दौरान नेशनल मेंबरशिप इंचार्ज बनाया गया। इस वक्त शर्मा को गुजरात का एडिशनल चार्ज दिया गया है। वो लखनऊ के लगातार दो बार मेयर रहे हैं। लखनऊ यूनिवर्सिटी से उन्होंने डबल पीएचडी की है। जनता में उनकी इमेज साफ और दो टूक बात कहने वाली है।
सतीश महाना
- बीजेपी के 6 बार से लगातार विधायक रहे सतीश महाना इस बार भी यानी 7वीं बार विधायक बने हैं। कारोबारियों में महाना की अच्छी पकड़ है। महाना को भी 14 मार्च को अमित शाह की तरफ से तुरंत आने को कहा गया और कुछ ही देर में वो दिल्ली के लिए रवाना हो गए। संगठन में जबरदस्त पकड़ होने के साथ-साथ पॉपुलर फेस हैं।

anvnews anvnews anvnews anvnews
anvnews
anvnews