आरुषि-हेमराज केस : निचली अदालत के राजेश-नूपुर तलवार को दोषी बताने वाले आदेश पर हाईकोर्ट सुनाएगा फैसला

anvnews

गाजियाबाद: देश की सबसे बड़ी मर्डर मिस्ट्री और नोएडा के चर्चित आरुषि-हेमराज हत्याकांड मामले में आज सबकी नजरें इलाहाबाद हाईकोर्ट पर टिकी हैं. राजेश तलवार और उनकी पत्नी नूपुर तलवार की अर्जी पर आज कोर्ट अपना फैसला सुना सकता है. 25 नवंबर 2013 को गाजियाबाद की विशेष सीबीआई कोर्ट ने हालात से जुड़े सबूतों के आधार पर दोनों को उम्रकैद की सज़ा सुनाई थी, जिसके खिलाफ जनवरी 2014 में दोनों ने इलाहाबाद हाइकोर्ट का दरवाज़ा खटखटाया. 16 मई 2008 की रात को नोएडा के जलवायु विहार में आरुषि की उसके ही घर में हत्या कर दी गई थी. एक दिन बाद उसके नौकर हेमराज का शव उसी घर की छत से मिला. 5 दिन बाद पुलिस ने ये दावा करते हुए आरुषि के माता-पिता को गिरफ्तार कर लिया कि राजेश ने आरुषि और हेमराज को आपत्तिजनक हालत में देखने के बाद दोनों की हत्या कर दी. फिलहाल गाजियाबाद की डासना जेल में तलवार दंपती सजा काट रहे हैं.

anvnews anvnews anvnews anvnews
anvnews
anvnews