हार्दिक पटेल का नितिन पटेल को ऑफर, अपने साथ 10 MLA लाएं तो कांग्रेस से करेंगे बात'

दिल्लीः पाटीदार नेता हार्दिक पटेल ने गुजरात के डिप्टी सीएम नितिन पटेल को कांग्रेस में शामिल होने का न्योता दिया है. वैसे तो हार्दिक पटेल को खुद को कांग्रेस का नेता नहीं बताते हैं लेकिन नितिन पटेल की नाराजगी को कांग्रेस के पक्ष में करने के लिए वह कोई कोरी कसर नहीं छोड़ रहे हैं. हार्दिक ने नितिन पटेल को अपने साथ 10 विधायक लाने और कांग्रेस की सरकार बनने पर मनचाहा पद लेने तक की बात कही है. आपको बता दें कि गुजरात में बीजेपी की सरकार बने अभी 10 दिन भी नहीं हुए है और राज्य के डिप्टी सीएम अपना पोर्टफोलियो घटाने पर नाराज चल रहे है.

नितिन पटेल ने पार्टी आलाकमान को पिछली सरकार के दौरान दिए गए मंत्रालयों को वापस दिए जाने की मांग की है. इसके साथ ही नितिन पटेल ने कहा कि अगर ऐसा नहीं हुआ तो उनका इस्तीफा स्वीकार किया जाए. हार्दिक पटेल ने कहा, 'अगर गुजरात के डिप्टी सीएम नितिन पटेल बीजेपी छोड़कर अपने साथ 10 विधायकों को लाते हैं, फिर हम कांग्रेस से बात करेंगे कि उन्हें सरकार में मनचाहा पद दिया जाए, अगर बीजेपी में उनका सम्मान नहीं है तो उन्हें पार्टी छोड़ देनी चाहिए. 

नितिन पटेल ने डीएनए से कहा है, 'इसमें कुछ गलत नहीं है कि मैं अपने पूर्ववर्ती मंत्रालय की मांग कर रहा हूं, यह मेरे आत्मसम्मान का प्रश्न है. ऐसे डिप्टी सीएम रहने का क्या फायदा जब मेरे पोर्टफोलियो को ही घटा दिया गया हो. मैंने अपनी असहमति सही व्यक्ति तक पहुंचा दी है.' डीएनए सूत्रों के मुताबिक नितिन पटेल ने पूर्व सीएम आनंदीबेन पटेल के साथ बंद कमरे में बैठक भी की है.

इस बार मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने अपने पास गृह, बंदरगाह एवं खदान, शहरी विकास, पेट्रोलियम, जलवायु परिवर्तन, विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी और सूचना एवं प्रसारण और सामान्य प्रशासन सहित कई विभाग रखे हैं. वहीं उप-मुख्यमंत्री नितिन पटेल को सड़क एवं निर्माण, स्वास्थ्य, मेडिकल शिक्षा, नर्मदा, कल्पसार एवं कैपिटल परियोजना जैसे विभागों की जिम्मेदारी सौंपी गई है. 

Videos
गुजरात
post-image
गुजरात

गुजरात के नवनिर्वाचित विधायक जिग्नेश मेवाणी की 'युवा हुंकार रैली' को लेकर विवाद बढ़ता जा रहा है

गुजरात के नवनिर्वाचित विधायक जिग्नेश मेवाणी की 'युवा हुंकार रैली' को लेकर विवाद बढ़ता जा रहा है