शहीद भाई का पार्थिव शरीर देखकर बेहोश हो गई बहन, पाकिस्तान मुर्दाबाद के लगे नारे

anvnews

शहीद भाई का चेहरा आखिरी बार देखने के लिए बहन आस्ट्रेलिया से आई, लेकिन घर में पांव रखते ही वह बेसुध हो गई। लोग पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे लगाते रहे। पंजाब में फिरोजपुर के गांव लौहगढ़ ठाकरांवाला के शहीद जवान जगसीर सिंह का मंगलवार को राजकीय सम्मान से अंतिम संस्कार कर दिया गया। रविवार को नौशेरा सेक्टर में एलओसी पर पाकिस्तान द्वारा की गई फायरिंग में जगसीर शहीद हो गया था। उसका पार्थिक शरीर मंगलवार सुबह करीब 10.30 बजे पहुंचा। शहीद की बहन पवनदीप कौर सोमवार देर रात आस्ट्रेलिया से घर पहुंची।

जैसे ही बहन घर पहुंची, अंतिम संस्कार की तैयारियां शुरू हो गईं। उसके बाद सेना के जवानों ने गार्ड ऑफ ऑनर दिया। राजकीय सम्मान के साथ जगसीर सिंह का अंतिम संस्कार कर दिया गया। श्मशान घाट में पाकिस्तान मुर्दाबाद के लग रहे नारों के बीच पिता अमरजीत सिंह ने शहीद को मुखाग्नि दी। शहीद को श्रद्धांजलि देने के लिए अंतिम यात्रा में हजारों की संख्या में इलाके लोग पहुंचे।
घनी धुंध व कड़ाके की सर्दी के बावजूद शहीद की अंतिम यात्रा में जनसैलाब उमड़ा। इतनी ज्यादा संख्या में लोग शहीद को अंतिम विदाई देने पहुंचे कि गांव से आठ सौ मीटर दूर श्मशान घाट तक लोगों की कतार टूटी ही नहीं। सेना की टुकड़ी ने शहीद के सम्मान में सलामी दी। शहीद जगसीर के परिवार में पत्नी महिंदर पाल कौर, बेटियां नगम जीत कौर, गुरनीत कौर और बेटा जगदीश सिंह, मां गुरमीत कौर, पिता अमरजीत सिंह, बहन पवनदीप कौर और भाई जसबीर सिंह हैं।

पाकिस्तान के खिलाफ कठोर कदम उठाने की मांग
शहीद की शव यात्रा व अंतिम संस्कार के समय उपस्थित जन समूह ने पाकिस्तान के विरोध में नारेबाजी की। भारत सरकार से पाकिस्तान की नापाक हरकतों को रोकने के लिए कठोर कदम उठाने की भी मांग की गई। लोगों में परिवार के प्रति गहरी संवेदना थी। वहीं, अंतिम संस्कार के दौरान सांसद शेर सिंह घुबाया व जिले के चारों कांग्रेसी विधायकों में से किसी के भी नहीं पहुंचने में लोगों में आक्रोश भी दिखाई दिया।

anvnews anvnews anvnews anvnews
anvnews
anvnews