मोदी को अय्यर ने ‘नीच’ शब्द को मुद्दा बनाकर भाजपा ने कांग्रेस को बेकफुट पर ला दिया

अहमदाबाद : मणिशंकर अय्यर के बयान के बाद पीएम नरेंद्र मोदी ने अपनी सभा में ’नीच‘ शब्द का मुद्दा उठाकर एक तरह से चक्रवात ही ला दिया है। 2014 के ‘चायवाला’ विवाद की तरह ही भाजपा ने इस मुद्दे का लपक लिया है। अब मीडिया से लेकर सोशल मीडिया तक सभी प्लैटफार्म पर भाजपा के नेता कांग्रेस पर बुरी तरह से टूट पड़े हैं।प्रेस कांफ्रेंस भी बेअसर.

इसके जवाब में कांग्रेस नेता सुरजेवाला ने प्रेस कांफ्रेंस आयोजित की, पर वह भी बेअसर साबित हुई। कल यह विवाद बढ़ता देख राहुल गांधी ने मणिशंकर अय्यर से इस पर माफी मांगने के लिए कहा। इस पर वित्त मंत्री ने आज कहा कि अय्यर को कांग्रेस से सस्पेंड करना एक दिखावा है। उन्होंने जानबूझकर पीएम मोदी के लिए ‘नीच’ शब्द का प्रयोग किया है। यह एक सोची-समझी राजनीति के तहत हुआ है। मेरा लोगों से यही अनुरोध है कि वे कांग्रेस के इस मोदी गेम को समझें।

जानबूझकर की गई गलती
न्यूज एजेंसी के अनुसार जेटली ने कहा कि अय्यर ने जानबूझकर ऐसा किया है, उन्हें पार्टी से सस्पेंड करना एक दिखावा है। यह सब सोच-समझकर लिया गया फैसला है। यह भी उनकी राजनीति का एक हिस्सा है।
अय्यर के बयान से ऐसा माइंड सेट दिखाई देता है कि केवल एक उच्च परिवार से जुड़े लोग ही देश पर शासन कर सकते हैं।
कांग्रेस ने पीएम के लिए ‘नीच’ शब्द कहकर देश के कमजोर और पिछड़े लोगों का अपमान किया है।
भारत की असली ताकत तब दिखेगी, जब कोई साधारण मानव सत्ता पर आकर वंशवाद की राजनीति को खत्म कर देगा।

Videos
गुजरात
post-image
गुजरात

गुजरात विधानसभा चुनाव में पटेल समुदाय पर टिकीं सबकी नजरें, आखिर किसे है हार्दिक पटेल से खतरा

गुजरात विधानसभा चुनाव में पटेल समुदाय पर टिकीं सबकी नजरें, आखिर किसे है हार्दिक पटेल से खतरा