महाराष्ट्र में (BJP) को करना पड़ सकता है मुश्किल का सामना..

anvnews

22 साल बाद बीजेपी ने 100 से भी कम सीटें जीती है. ऐसे में बड़ी मुश्किल से बीजेपी सरकार बनाने में कामयाब तो हो गई लेकिन महाराष्ट्र में इससे भी बुरी हालत बीजेपी की हो सकती हैं.  इसकी वजह मुंबई में कई अहम ठिकानों पर लगे पोस्‍टर-बैनर्स हो सकते हैं.

जिनमें मराठा युवा मोर्चा ने गुजरात में भाजपा के 100 सीटें भी न जीत पाने के बारे में लिखा है. इन पोस्‍टर्स में इशारा किया गया है कि गुजरात में बीजेपी सेन्चुरी भी पूरी नहीं कर पाई. वहीं आगे लिखा है कि अगर महाराष्ट्र में मराठों को आरक्षण नहीं दिया तो अगले चुनाव में महाराष्ट्र में 50 का आंकड़ा भी क्रॉस नहीं कर पाएगी.यही मराठा समाज का करारा जवाब होगा.

मराठा आरक्षण को लेकर विपक्षी दल कांग्रेस और एनसीपी लगातार फडणवीस सरकार को निशाना बना रही हैं. इन दलों ने आरोप लगाया है कि सरकार मराठाओं को आरक्षण न देकर उनके साथ छलावा कर रही है. वहीं शिवसेना ने कहा है कि जिस तरह हार्दिक ने पटेल आरक्षण के जरिए सरकार की खाट खड़ी कर दी उसी तरह अगर मराठाओं को आरक्षण नहीं दिया तो ये लोग भी बीजेपी को जबरदस्त झटका देंगें.  इससे भाजपा को आने वाले चुनाव में भारी नुकसान हो सकता है.


गौर करने वाली बात है कि अगर बीजेपी मराठाओं को 16 फीसदी आरक्षण दे भी दे तो वो कानूनन ठीक नहीं होगा. क्‍योंकि महाराष्ट्र में पहले से ही करीब 52 फीसदी आरक्षण है.  ऐसे में इस नए 16 फीसदी को मिलाकर कुल आरक्षण की सीमा करीब 68 फीसदी हो जाएगी जो सुप्रीम कोर्ट के आदेशानुसार अधिकतम सीमा 50 फीसदी का उल्लंघन होगा. कांग्रेस  सरकार ने 2014 विधानसभा चुनाव के पहले आरक्षण की घोषणा की थी लेकिन हाईकोर्ट ने उसे खारिज कर दिया था.  ऐसे में इस बार भाजपा वही गलती नहीं दोहराना चाहती है. बहरहाल, मराठा युवा मोर्चा की धमकी के बाद बीजेपी में मंथन का दौर शुरु हो चुका है.

anvnews anvnews anvnews anvnews
anvnews
anvnews