समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव ने कहा है कि अगर इस वक्त कोई सबसे ज्यादा मीट का एक्पोर्ट कर रहा है तो वो बीजेपी के लोग हैं.

उत्तर प्रदेश : उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री तथा समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव ने बीजेपी पर पलटवार करते हुए कहा है कि अगर इस वक्त सबसे ज्यादा मीट का एक्पोर्ट कर रहा है तो वो बीजेपी के लोग हैं. यूपी में सबसे ज्यादा स्लाटर हाउस बीजेपी के लोगों के पास हैं. उन्होंने कहा कि स्लाटर हाउस पर यूपी सरकार की कार्रवाई करके योगी सरकार ने केवल एक खासवर्ग के लोगों को निशाना बनाया है. अगर रिकॉर्ड खंगाले जाएं तो इस समय सबसे ज्यादा स्लाटर हाउस बीजेपी नेताओं के नाम पर हैं.

गाजीपुर में कार्यकर्ता सम्मेलन में अखिलेश यादव ने यूपी और केंद्र सरकार पर जोरदार हमले किए. उन्होंने कहा कि देश का उद्योगपति बैंकों को कंगाल करके जनता का पैसा लेकर विदेश भाग जाता है और सरकार है कि लकीर पीट रही है. उन्होंने कहा कि बिना सरकार की मिलीभगत के इतना बड़ा घोटाला संभव नहीं है. 

पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि पिछले कुछ सालों में कुछ लोग बेहतर भविष्य के लिए अपना पैसा लेकर भारत से बाहर चले गए और कुछ बैंकों का पैसा लेकर. मतलब कुछ बाहर जाकर बस गए और कुछ विदेश भाग रहे हैं. इधर हमारा प्रदेश ये इंतज़ार कर रहा है कि निवेश कब होगा. सच तो ये है कि लोग पैसा लेकर बाहर जा रहे हैं, न कि निवेश के लिए आ रहे हैं

अखिलेश यादव ने कहा कि बीजेपी सरकार लगातार जनता को धोखा दे रही है. उन्होंने योगी सरकार के बजट को गरीब विरोधी बताते हुए कहा कि योगी सरकार के बजट में गरीबों के लिए कुछ नहीं है. बीजेपी सरकार किसानों, युवाओं, गरीबों को धोखा दे रही है. उन्होंने कहा कि सरकार चाहती है कि परीक्षा में नकल न हो, लेकिन गवर्नर साहब के भाषण में नकल की गई. सपा के कामों का उल्लेख कर भाषण में नकल की गई. सपा सरकार के कामों का ही बीजेपी सरकार शिलान्यास और उदघाटन कर रही है.' 

अखिलेश यादव ने कहा कि सपा की कोशिश रहेगी सभी दल गठबंधन के लिए साथ आएं. उपचुनाव को लेकर सपा प्रत्याशियों के चयन में जुटी हुई है. साथ ही उन्होंने कहा कि चाय और पकौड़ा पर चर्चा करने वाले सच्चाई पर कब चर्चा करेंगे. सपा अध्यक्ष ने कहा बीजेपी सरकार चाहती है परीक्षार्थी परीक्षा छोड़ दें, ताकि युवाओं को नौकरी नहीं देनी पड़े.

Videos
उत्तर प्रदेश
post-image
उत्तर प्रदेश

पार्टी दफ्तरों में मिलाने के मामले में प्रदेश सरकार को 26 सितंबर तक अपना पक्ष रखने के लिए कहा

पार्टी दफ्तरों में मिलाने के मामले में प्रदेश सरकार को 26 सितंबर तक अपना पक्ष रखने के लिए कहा