सुंजवान सेना कैम्प पर आतंकी हमले के बाद जायजा लेने जम्मू पहुंचे आर्मी चीफ बिपिन रावत

anvnews

जम्मू :भारतीय सेना प्रमुख बिपिन रावत सुंजवान सैन्य शिविर में जारी आतंक रोधी अभियान का जायजा लेने के लिए रविवार (11 फरवरी) को जम्मू पहुंच गए हैं. एक दिन पहले जैश-ए-मोहम्मद के आतंकवादियों ने शिविर पर हमला कर दिया था. सेना की वर्दी में आए हथियारों से लैस जैश-ए-मोहम्मद के आतंकियों ने शनिवार तड़के करीब 4.45 बजे शिविर पर धावा बोल दिया था. हमले में सेना के एक जूनियर कमीशंड अधिकारी (जेसीओ) समेत दो जवान शहीद हो गए और नौ अन्य घायल हो गए. रक्षा अधिकारियों के मुताबिक, आतंकवादी फैमिली क्वाटरों में उस समय घुस आए जब सभी सो रहे थे. सेना ने अभियान के तहत तीन आतंकवादियों को मार गिराया है, जबकि एक आतंकवादी के छिपे होने की खबर है.

अलगाववादियों का विरोध प्रदर्शन रोकने के लिए कश्मीर में प्रतिबंध
जम्मू एवं कश्मीर लिबरेशन फ्रंट (जेकेएलएफ) के संस्थापक मकबूल बट की 34वीं की पुण्यतिथि के मौके पर रविवार (11 फरवरी) को अलगाववादियों द्वारा बुलाए गए विरोध प्रदर्शन को रोकने के लिए प्रशासन ने श्रीनगर और कश्मीर घाटी के कुछ हिस्सों में प्रतिबंध लगा दिया है. बट को 11 फरवरी 1984 को तिहाड़ जेल में फांसी दी गई थी. वह कुपवाड़ा के त्रेहगाम गांव का रहने वाला था. श्रीनगर के अलावा उत्तरी कश्मीर के कुपवाड़ा जिले और सोपोर में भी प्रतिबंध लगाए गए हैं. वरिष्ठ अलगाववादी नेता सईद अली गिलानी, मीरवैज उमर फरूक, मुहम्मद यासीन मलिक को विरोध प्रदर्शन में शामिल होने से रोकने के लिए हिरासत में रखा गया है.

anvnews anvnews anvnews anvnews
anvnews
anvnews