विपक्षी दलों के साथ बीजेपी नीत गठबंधन के घटक शिवसेना ने भी इस आंदोलन का खुलकर समर्थन किया है.

मुंबई : अपनी विभिन्न मांगों पर दबाव बनाने के लिए नासिक से छह मार्च को ‘लांग मार्च’ पर निकले महराष्ट्र के विभिन्न हिस्सों के  35,000 से अधिक किसान रविवार को मुंबई पहुंचे. विपक्षी दलों के साथ बीजेपी नीत गठबंधन के घटक शिवसेना ने भी इस आंदोलन का खुलकर समर्थन किया है.एमएनएस चीफ राज ठाकरे ने भी रविवार को मुंबई पहुंचे किसानों की सभा को संबोधित किया.  

सरकार ने किया किसानों से संपर्क वैसे, सरकार ने किसानों से संपर्क किया है और उनकी मांगों को मानने का आश्वासन दिया है लेकिन किसान नेताओं ने कहा कि वे विधानभवन के सामने सोमवार के अपने प्रदर्शन पर कायम हैं.  वामदलों से संबद्ध ऑल इंडिया किसान सभा की अगुवाई में किसान महाराष्ट्र सरकार की ऋणमाफी योजना के उपयुक्त क्रियान्वयन की मांग कर रहे हैं. उनकी अन्य मांगें भी हैं.ऑल इंडिया किसान सभा की प्रदेश परिषद के अध्यक्ष किसान गुजार ने कहा कि हम पूर्ण ऋणमाफी, उपज के उचित दाम आदि को मांग को लेकर सोमवार को विधानभवन का घेराव करेंगे.
महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस ने रविवार रात कहा कि उनकी सरकार किसानों के साथ बातचीत करने के लिए तैयार है जिन्होंने अपनी विभिन्न मांगों पर दवाब बनाने के लिए मुम्बई के लिए ‘ लांग मार्च’ निकाला है. उन्होंने आंदोलनरत किसानों से सोमवार को शहर में यातायात नहीं रोकने की भी अपील की ताकि शहर में दसवीं की परीक्षा देने वाले छात्रों को परीक्षा केंद्रों पर जाने में विलंब ना हों.  बता दें नासिक से छह दिन लंबा मार्च निकाल कर 35,000 से अधिक किसान मुंबई पहुंचे हैं. इस बीच महाराष्ट्र के शिक्षा मंत्री विनोद तावड़े ने दसवीं कक्षा के बच्चों को सोमवार को समय से पहले परीक्षा केन्द्रों पर पहुंचने के लिए कहा है.  उन्होंने यह बात ट्वीट के जरिए कही है.

Videos
देश
post-image
देश

भारतीय सेना द्वारा किये गये सर्जिकल स्ट्राइक को अब दिवस के रूप में मनाने के दिये गये आदेश

भारतीय सेना द्वारा किये गये सर्जिकल स्ट्राइक को अब दिवस के रूप में मनाने के दिये गये आदेश