इंसाफ के लिए महिला थाने के चक्कर लगा रही पीड़िता

0
371

रेप पीड़िता को इंसाफ दिलाने के दावे सरकार चाहे लाख कर ले… लेकिन इन सब दावों की पोल खोलती हुई पलवल पुलिस नजर आ रही है। इंसाफ की गुहार लगाने के लिए रेप पीड़िता हर रोज महिला थाने के चक्कर काट रही है लेकिन पीड़िता की कोई सुनने वाला तक नहीं है । दरअसल पलवल की महिला थाने में इंसाफ की मांग को लेकर दर-दर भटक रही  है …रेप पीड़िता आरोपी की गिरफ्तारी की मांग कर रही है….लेकिन थाने में बैठी महिला अधिकारी पीड़िता को इंसाफ दिलाना तो दूर उससे बात तक करने की जहमत नहीं उठाती । रेप पीड़िता फरीदाबाद की रहने वाली है जिसको पलवल में रहने वाले एक कारोबारी ने शादी का झांसा देकर उसके साथ शारीरिक संबंध बनाए। इतना ही नहीं उस युवक ने पीड़िता के साथ अलग-अलग स्थानों पर ले जाकर उसके साथ रेप की घटना को अंजाम दिया। युवती से शादी की बात करके युवक ने करीब 6 महीने तक लड़की के साथ शारीरिक संबंध बनाए लेकिन जब पीड़िता को यह बात पता चली कि युवक पहले से शादीशुदा है तो युवती ने उससे शादी करने से इनकार कर दिया । बाइट पीड़ित युवतीवी.ओ – 2  रेप पीड़िता ने पुलिस पर आरोप लगाते हुए कहा कि वो पिछले 2 महीने से इंसाफ की गुहार लगाते हुए महिला थाने के चक्कर लगा रही है…लेकिन पुलिस मामले में कोई कार्रवाई नहीं कर रही…जबकि पलवल के महिला थाने में दो महिने पहले कई धाराओं में एफआईआर तक दर्ज हो चुकी है….इस एफआईआर में धारा 120 बी , 354, 376, 379 बी और धारा 506 तक लगाई हुई है….लेकिन दो महीने से अधिक का समय बीत जाने के बावजूद भी आरोपी की गिरफ्तारी ना होना पुलिस की इस कार्यशैली को दर्शाता है…बाइट पीड़ित युवती वी.ओ – 3 इतना ही नहीं रेप पीड़िता ने पुलिस पर आरोप लगाते हुए कहाकि आरोपी की गिरफ्तारी ना होना पुलिस पर रसूखदार लोगों का दबाव होना है…रेप पीड़िता ने आरोपी के परिवार की फोटो दिखाते हुए कहा कि उनके संबंध हरियाणा के पूर्व मंत्री से है जिसकी वजह से वह अभी तक सलाखों से दूर है। बाइट रेप पीड़ितावी.ओ – 4  दो महीने का लंबा समय बीत जाने के बावजूद भी पुलिस की ओर से कोई कार्रवाई नहीं होने पर जब इस बारे में पलवल महिला थाने के एसएचओ सविता रानी से बात करने की कोशिश की तो उन्होंने मामले में कोई भी बयान देने से साफ इंकार कर दिया।  बहराल एफआईआर दर्ज हुए 2 महीने से अधिक का समय बीत जाने के बावजूद भी आरोपी की गिरफ्तारी ना होना पुलिस की कार्यप्रणाली को साफ दर्शाता है कि आखिर एक रेप पीड़िता थाने के बार-बार चक्कर लगा रही है लेकिन उसके सुध लेने वाला कोई नहीं है… तो ऐसे में बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ का नारा देने वाली सरकार आखिर कैसे बेटियों को बचा पाएगी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here