कांगड़ा: ससुराल में बेटी की हुई हत्या, गुस्से में मायके वालों ने घर के बाहर जला डाला शव

0
380

कांगड़ा.(ब्यूरो रिपोर्ट ANV NEWS) हिमाचल प्रदेश में कांगड़ा जिले की तहसील ज्वाली के गांव कुठेहड़ में विवाहिता उषा देवी (32)) के शव को उसके परिजनों ने शनिवार की सुबह ससुराल के बाहर सीढ़ियों के पास ही जला दिया. उषा देवी की हत्या बीते शुक्रवार को की गई. हत्या का आरोप उषा के पति और ससुरालियों पर लगाया जा रहा है. मायके वाले जब उषा की लाश लेने पहुंचे और उसका अंतिम संस्कार करना चाह रहे थे तब पंचायत की ओर से उन्हें कोई सहयोग नहीं मिला.
इससे मायके वालों का रोष काफी बढ़ता चला गया और शनिवार की 8 बजे सुबह उसकी लाश को उषा के ससुराल के घर के बाहर रख कर जला दिया. जाहिर है कि इससे माहौल तनावपूर्ण हो गया. मायके वालों का आरोप है कि उन्हें कुठेहड़ पंचायत का कोई सहयोग नहीं मिला और न ही कोई पंचायत का सदस्य उनके पास आया. मृतका की माता गुड्डी देवी, मौसी और मामा का कहना है कि जब वह शव को लेकर कुठेहड़ पहुंचे तो हमें किसी ने कोई सहयोग नहीं किया

लाश में आग लगाने के एक घंटे बाद पहुंची पुलिस: पुलिस करीब 9 बजे मौके पर आई पर तब तक मायके वालों ने शव को आग के हवाले कर दिया था. इसके साथ ही मायके वालों ने कुठेहड़ पंचायत मुर्दाबाद के नारे लगाए. पुलिस के समझाने के बाद अब मामला शांत हो गया है. पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है. गौरतलब है कि उषा देवी (32) के मर्डर में पुलिस ने उसके पति अर्जुन सिंह, ससुर सूरत सिंह व सास विष्णु देवी को धारा 302, 34आईपीसी के तहत गुरुवार को गिरफ्तार कर लिया था, जिन्हें आज कोर्ट में पेश किया जाएगा.

लापरवाही का आरोप: मायके वालों ने इस प्रकरण में पुलिस की लापरवाही की बात भी स्वीकारी है. मृतका का शव जब कुठेहड़ पहुंच गया था तब भी पुलिस ने कोई प्रबंध नहीं किया. ऐसे में अगर ससुराल की तरफ से कोई मौके पर पहुंच जाता तो बड़ा हादसा हो सकता था. पुलिस इस मामले में बयान देने से अपना पल्लू झाड़ रही है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here