कुल्लू में कोरोना का तीसरा मामला ये पंचायत सील पढ़ें यहां

0
441
hr

कुल्लू(ब्यूरो रिपोर्ट): कुल्लू में वीरवार को एक और मामला कोरोना पाॅजिटिव आते ही शुरड़ पंचायत के वार्ड नम्बर 2 और 6, खोखण पंचायत का वार्ड नम्बर 9 तथा नगर पंचायत भुंतर के वार्ड नम्बर 4 को कंटेनमेन्ट जोन घोषित करते हुए इन्हें पूरी तरह सील कर दिया गया है। इसी प्रकार, शुरड़ पंचायत के वार्ड नम्बर 3,4, 5 और 7 तथा नगर पंचायत भुुंतर के वार्ड नम्बर 5 को बफर जोन घोषित किया गया है।

इस संबंध में पत्रकारों से बात करते हुए उपायुक्त डाॅ. ऋचा वर्मा ने बताया कि  कंटेनमेंट जोन में आवाजाही पर प्रतिबंध रहेगा। केवल आपाताकालीन सेवाओं के लिए ही अनुमति होगी। इस जोन में फल-सब्जी व राशन इत्यादि की होम डिलिवरी की जाएगी। इस संबंध में खाद्य व नागरिक आपूर्ति विभाग को निर्देश दिए गए हैं। इस जोन में मेडिकल सर्विलेन्स रहेगी जिसके लिए टीमें गठित की गई है। बफर जोन में हालांकि गतिविधियां जारी रहेंगी लेकिन इसमें भी मेडिकल सर्विलेन्स रहेगी। किसी भी व्यक्ति को लक्षण पाए जाने पर तुरंत से सैंपल लिए जाएंगे।

बेटी सहित घर में ही क्वारंटीन थी महिला
लगभग एक माह पूर्व शिमला से अपनी बेटी को साथ लेकर भुंतर के समीप शुरड़ पहुंची 29 वर्षीय महिला अपने चैक-अप के लिए क्षेत्रीय अस्पताल कुल्लू आई जहां लक्षण पाए जाने पर बुधवार को उसका सैंपल लिया गया। वीरवार को देर सांय आई रिपोर्ट में महिला को पाॅजिटिव पाया गया। महिला को कोविड केयर सेंटर कुल्लू के आईसोलेशन वार्ड में रखा गया है। उसकी बेेटी को भी आईसोलेशन वार्ड में चिकित्सा निगरानी में रखा गया है। गत माह शिमला से बाद बजौरा पहुंचने पर महिला की चिकित्सा जांच की गई थी और किसी प्रकार के लक्षण नहीं पाए गए थे। महिला को बेटी सहित घर में ही क्वारंटीन किया गया था। 

महिला के सम्पर्क में आए 16 प्राईमरी कन्टेक्टस् को क्वारंटीन किया 
डाॅ. ऋचा वर्मा ने कहा कि महिला के सम्पर्क में आए लगभग 16 प्राईमरी कन्टेक्टस् को क्वारंटीन कर दिया गया है और इनके सैंपल लेने के लिए स्वास्थ्य विभाग को निर्देश दिए गए हैं। महिला दो बार क्षेत्रीय अस्पताल आई है और जांच करने वाले चिकित्सकों को यदि आवश्यक हुआ तो क्वारंटीन किया जाएगा। हालांकि चिकित्सीय जांच पूरी तरह से सुरक्षित ढंग से की जा रही है।
 
1361 सैंपल लिए जा चुके हैं जिला से
उपायुक्त ने बताया कि जिला से अभी तक कुल 1361 सैंपल लिए जा चुके हैं जिनमें से 1312 की रिपोर्ट नेगेटिव तथा तीन पाॅजिटिव आए हैं। 46 की रिपोर्ट आनी शेष है। उन्होंने लोगों से अपील की है कि यदि किसी व्यक्ति में कोरोना के लक्षण प्रतीत हों, तो तुरंत से नजदीकी स्वास्थ्य केन्द्र में जांच करवाएं अथवा 104 पर फोन करें।

संस्थागत क्वारंटीन में हैं 826 लोग
डाॅ. ऋचा वर्मा ने कहा कि बाहरी प्रदेशों अथवा हाॅट-स्पाॅट क्षेत्रों से आए लोगों को संस्थागत क्वारंटीन किया जा रहा है। वर्तमान में 826 लोग संस्थागत क्वारंटीन पर, 1446 होम क्वारंटीन पर हैं जबकि 4382 लोगों ने अपना क्वारंटीन सफलतापूर्वक पूरा कर लिया है। उन्होंने कहा कि होम क्वारंटीन के तौर-तरीकों व दिशा-निर्देशों के बारे में लोगों को जानकारी प्रदान की जा रही है। होम क्वारंटीन के नियमों की सख्ती से पालना सुनिश्चित बनाने के लिए पंचायती राज संस्थानों के प्रतिनिधियों, आशा व आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं को निगरानी के लिए कहा गया है।

पैनिक न फैलाएं, एहतियात बरतें
डाॅ. ऋचा वर्मा ने लोगों से अपील की है कि कोरोना को लेकर किसी प्रकार का पैनिक न फैलाएं। घबराने की आवश्यकता नहीं है। उन्होंने कहा कि महिला अपने निवास स्थान पर क्वारंटीन में थी और काम पर भी नहीं जा रही थी। उन्होंने कहा कि कोरोना का संकट लगातार बढ़ रहा है। केवल एहतियाती उपायों से अपने आप को सुरक्षित रखा जा सकता है। उन्होंने लोगों से आग्रह किया कि दो गज की सामाजिक दूरी हर समय हर स्थान पर बनाकर रखें। मास्क अथवा सूती फेस कवर के बगैर घर से बाहर न निकले। हालांकि घर के अंदर मास्क का प्रयोग करने की आवश्यकता नहीं है। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here