जीएसटी विवरणियां नहीं भरने वाले करदाताओं का पंजीकरण होगा रद्द!

0
211

मंडी ! आयुक्त राज्य कर एवं आबकारी हिमाचल प्रदेश डॉ. अजय शर्मा द्वारा जिला कुल्लू एवं मंडी की माह अप्रैल, 2019 से जनवरी, 2020 तक कर संग्रह की समीक्षा की गई। बैठक में समस्त सहायक आयुक्त एवं राज्य कर अधिकारी व सहायक अधिकारी उपस्थित रहे। डॉ. अजय शर्मा ने समस्त सहायक आयुक्तों एवं अधिकारियों को निर्देश दिए कि जो करदाता अपनी जी.एस.टी विवरणियां समय पर नहीं भर रहे हैं उनके विरूद्ध कड़ी कार्यवाही अमल में लाई जाए और ऐसे करदाताओं का पंजीकरण तत्काल रदद किया जाए। उन्होंने कहा विवरणियां जमा करने की प्रतिशतता 95 प्रतिशत से अधिक सुनिश्चित की जाए। उन्होंने कहा कि जीएसटी की लगातार समीक्षा की जाए ताकि जीएसटी कर संग्रह में वृद्धि की जा सके। उन्होंने कहा कर चोरी रोकने के हर संभव प्रयास किए जाएं जिसमें वाहनों के निरीक्षण से लेकर व्यापारिक परिसर, होटल व आईटीसी के धोखाधड़ी वाले मामलों पर पैनी नजर रखी जाए । उन्होंने निर्देश दिए कि वैट के समस्त लम्बित मामलों को सरकार द्वारा लागू की गई स्कीम के तहत शीघ्र निपटाएं व पंजीकृत व्यापारियों को व्यापार मंडल व इंडस्ट्री एसोसिएशन के माध्यम से जागरूक किया जाए। प्रवेश कर व पुराने बकाया राजस्व से सम्बन्धित सभी मामलों में बकाया वसूली करें। उन्होंने बताया कि जिला मंडी में 1 अप्रैल, 2018 से 31 जनवरी, 2019 तक 254.67 करोड़ और 1 अप्रैल, 2019 से 31 जनवरी, 2020 तक 308.70 करोड़ की राशि कर संग्रह के तौर पर एकत्रित की गई और यह वृद्धि 21.25 प्रतिशत आंकी गई। जबकि जिला कुल्लू में 1 अप्रैल, 2018 से 31 जनवरी, 2019 तक 155.18 करोड़ और 1 अप्रैल, 2019 से 31 जनवरी, 2020 तक 194.50 करोड़ कर संग्रह के तौर पर एकत्रित किए गए और यह वृद्धि 25.34 प्रतिशत आंकी गई। बैठक में संयुक्त आयुक्त डॉ. राजीव डोगरा, उपायुक्त राज्य कर एवं आबकारी अनुपम कुमार सिंह भी उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here