नेताओं पर जनता का आक्रोश किस लिए,जयराम सरकार में युवाओं से भ्रस्टाचार जाहिर हो रहा,सुधीर

0
345

प्रदेश में युवाओं द्वारा सबसे शक्तिशाली सरकार के वजीर ठाकुर महेंद्र सिंह के ऊपर 2 दिन पहले जब जनता का गुस्सा फूटा तो कहीं ना कहीं यह लगने लगा था कि अब सब कुछ ठीक नहीं रहने वाला है और उसके बाद आज पूर्व प्रदेश अध्यक्ष डॉ राजीव बिंदल के खिलाफ उन्हीं के विधानसभा क्षेत्र में नारे लग गए शाम होते होते एक बार फिर धर्मपुर से विरोध की चिंगारी फूटी और नौकरियों के मामले पर आज महेंद्र सिंह के बेटे रजत ठाकुर को भी युवाओं ने नहीं छोड़ा या यह कहें कि उन्हें भाषण तक देने नहीं दिया

घटनाक्रम बहुत महत्वपूर्ण है यही कारण है कि कांग्रेस भी अब किसी भी मसले को हाथ से जाने नहीं दे रही और विशेष रूप से कांग्रेस पार्टी की जो नई पीढ़ी है जो अब भविष्य की राजनीति करेगी वह पीढ़ी हर मसले को समझती है और यही कारण है कि तुरंत ही अपनी प्रतिक्रिया अभी सोशल मीडिया के माध्यम से देती है

इसी कड़ी में आज कांगड़ा जिला से कांग्रेस के नेता सुधीर शर्मा ने एक बार फिर भाजपा को घेरते हुए कहा कि एक विशेष विधानसभा क्षेत्रों में कुछ विशेष लोगों को सीधे तौर पर नौकरियां बांटी गई और इसका अब उदाहरण जनता को देने की जरूरत नेताओं को नहीं है क्योंकि खुद जनता ने नेता और उसके बेटे के मामले को जनता के सामने लाकर खड़ा कर दिया है उन्होंने कहा कि प्रदेश के बेरोजगार युवा जो पढ़ लिखकर प्रदेश से बाहर जाकर दो समय की रोटी कमाने के लिए भी संघर्ष कर रहे हैं वही हमारे नेता अपने मनमर्जी से नौकरियों की बंदरबांट कर कर हमारे युवाओं के साथ धोखा कर रहे हैं यही कारण है कि आज प्रदेश का युवा भाजपा की सरकार के खिलाफ खड़ा होता नजर आ रहा है और अभी तो यह ट्रेलर है फिल्म तो ऐसा लग रहा है कि बहुत खतरनाक भाजपा के लिए आगे होने वाले हैं

सुधीर शर्मा ने कहा कि अराजकता का माहौल पूरे प्रदेश में दिखाई दे रहा है और भाजपा का हर नेता सिर्फ अपने निजी फायदे के लिए सौदेबाजी में जुटा नजर आ रहा है यही कारण है कि प्रदेश में विकास नाम की कोई चीज धरातल पर दिखाई नहीं दे रही है और एक कमजोर और लाचार मुख्यमंत्री के रूप में जयराम ठाकुर अब दिखते नजर आ रहे हैं उन्होंने कहा कि प्रदेश के भाजपा के शायद ही कि किसी नेता पर अब तक भ्रष्टाचार के इतने आरोप नहीं लगे जितने सिर्फ जल शक्ति मंत्री पर ही लगे हैं लेकिन सरकार इतनी लाचार हैं कि किसी भी तरह का लगाम इनके ऊपर लगाने में पूरी तरह से विफल रहे हैं उन्होंने कहा कि बेशक सरकार के दबाव में पंचायती राज चुनावों में भाजपा अपना दबदबा बताने का प्रयास जरूर करें लेकिन धरातल पर क्या स्थिति है शायद मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर को पिछले 3 दिनों से लगातार भाजपा के मंत्रियों और नेताओं के खिलाफ उठ रही बगावत और आवाज से स्पष्ट हो गया होगा और उन्हें अब इस बात का अंदेशा भी हो गया होगा कि अब चंद महीने ही भाजपा सरकार के प्रदेश में बचे हैं।।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here