सरकार-किसानों की पांचवीं पंचायत भी फेल, 8 को भारत बंद, 9 को फिर होगी वार्ता

0
89

किसान सरकार से अब हां या ना में जवाब चाह रहे हैं. आज पांचवें दौर की वार्ता के दौरान किसान नेता शांत बैठ गए थे. किसान नेता एक पन्ने पर हां या ना यानी यस या नो लिखकर बैठे थे.  

कृषि कानूनों को लेकर सरकार और किसानों के बीच गतिरोध जारी है. शनिवार को 5वें दौर की वार्ता भी बेनतीजा रही. आज की बैठक में सरकार ने किसानों से और वक्त मांगा. अब 9 दिसंबर को सुबह 11 बजे फिर सरकार और किसान नेताओं की बातचीत होगी. लेकिन उससे पहले 8 दिसंबर को किसानों ने भारत बंद बुलाया है. 

 शनिवार की बैठक के बाद किसान नेताओं ने कहा कि केंद्र सरकार ने कहा है कि वे हमें 9 दिसंबर को एक प्रस्ताव भेजेंगे. हम (किसान) आपस में इस पर चर्चा करेंगे, जिसके बाद उसी दिन उनके साथ बैठक होगी. वहीं, किसान नेता बूटा सिंह ने कहा कि हम कानून रद्द करा कर ही मानेंगे. इससे कम पर हम मानने वाले नहीं हैं. 

किसान सरकार से अब हां या ना में जवाब चाह रहे हैं. आज दिल्ली के विज्ञान भवन में पांचवें दौर की वार्ता के दौरान किसान नेता शांत बैठ गए थे. और मंत्री आपस में बात करने के लिए बाहर चले गए थे. किसान नेता एक पन्ने पर हां या ना यानी यस या नो लिखकर बैठे थे. किसान संगठन के नेता बैठक में मंत्रियों के सामने यस या नो प्ले कार्ड लेकर बैठ गए

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here