Tuesday , April 23 2024
Breaking News

नवरात्री के पावन अवसर पर गुजरात में गरबा करते वक़्त 10 लोगों की हुई मौत, जाने वजह 

आज के समय में हार्ट अटैक आम बात सी हो गई है, और अब तो हर दूसरे दिन कोई न कोई हार्ट अटैक का शिकार हो ही रहा हैं। लेकिन हैरान करने वाली बात ये हैं कि आज के वक़्त छोटी उम्र के बच्चे भी इसका शिकार हो रहे हैं और जिस उम्र में हार्ट अटैक का खतरा बढ़ा है, वो बेहद परेशान और हैरान करने वाला है। बहुत कम उम्र में ही अब लोगों को हार्ट अटैक आ रहे हैं। जिस कारण कई लोगों की मौत भी चुकी हैं। वही, हाल ही में कई वीडियो सोशल मीडिया पर काफी वायरल भी हुई हैं, जिसमें कहीं जिम में वर्कआउट करते वक्त तो किसी की शादी में डांस करते कोई न कोई हार्ट अटैक का शिकार ज़रूर हुआ हैं। सबसे ज्यादा हैरान करने वाला मामला बीते 24 घंटे का है, जब गुजरात में गरबा खेलते हुए 10 लोगों की हार्ट अटैक आने के कारण मौत हो गई।

गुजरात के कपड़वंज खेड़ा में रव‍िवार (22 अक्टूबर) को गरबा खेलते वक्त 17 साल का युवक वीर शाह अचानक बेहोश होकर गिर गया। उसको अस्पताल ले जाया गया, जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया. ऐसा ही कुछ बड़ौदा में 13 साल के लड़के के साथ भी हुआ. अहमदाबाद में 28 साल के युवक रवि पांचाल, वडोदरा के 55 साल के शंकर राणा भी उन लोगों में शामिल हैं, जिनकी गरबा खेलते हुए हार्ट अटैक से मौत हुई है।

वही, देखा जाए तो इस बीच 24 घंटे के अंदर 500 से अधिक एम्बुलेंस कॉल की गई। इन घटनाओ की सुचना मिलते ही सरकार ने भी अलर्ट जारी किया है। सरकार ने इस तरह के आयोजनों के आयोजकों से सभी आवश्यक उपाय करने को भी कहा है। इससे यह सुनिश्चित क‍िया जा सके क‍ि लोगों के अस्वस्थ महसूस होने पर उनको अस्पताल ले जाने के लिए एंबुलेंस की सुव‍िधा उपलब्ध हो सके।

अब सवाल यह है कि आखिर गरबा खेलते हुए हार्ट अटैक से मौत कैसे हो सकती है और कई लोगों को यकीं भी नहीं होता कि आखिर गरबा खेलने से कैसे हार्ट अटैक आ सकता हैं। इस मामले पर हेल्थ एक्सपर्ट समीर भाटी का कहना है क‍ि हार्ट अटैक के पीछे कई बड़ी वजह हो सकती हैं. उन्होंने बताया कि डायग्नोज हार्ट से रिलेटेड कोई भी वजह, मेटाबॉलिक सिंड्रोम जिसमें हाई ब्लड प्रेशर, डायबिटीज कोलेस्ट्रॉल, स्ट्रेस, डाइट वगैरह. एक वजह यह भी होती है कि जो हमारी नसें होती हैं, वह थिन होती है जिससे भारतीयों में वेस्टर्न लोगों के मुकाबले हार्ट की समस्याएं 10 साल पहले ही होने के चांसेस बढ़ जाते हैं. रिस्क फैक्टर में पॉल्यूशन और स्मोकिंग भी वजह हो सकती हैं।

आखिर डांस करते हुए हार्ट अटैक का रिस्क क्यों बढ़ रहा है?

हेल्थ एक्सपर्ट भाटी ने बताया कि जब भी आप डांस या एक्सरसाइज इस तरह की कोई एक्टिविटी करते हैं तो उस समय हमारे हार्ट को ज्यादा काम करना पड़ता और उस वक़्त हमारे हार्ट पर ही सारा ज़ोर पड़ता है। जिस कारण ब्लड प्रेशर बढ़ जाता है. उन्होंने बताया कि हार्ट रेट बढ़ जाता है और जो शरीर को ऑक्सीजन चाहिए होती है, उसको हार्ट से मैच करना होता है… और ऐसे में अगर हमारी हार्ट आर्टरी में कोई समस्या होती है जो डायग्नोज नहीं होती है तो वह रप्चर हो सकती है. वहीं, अगर कुछ लोग हाई बीपी के मरीज हैं तो उन्हें यह एक्सर्शन ज्यादा होने के चांसेस होते हैं. इसके साथ ही डिहाइड्रेशन भी एक बड़ी वजह होती है। जिस कारण लोग हार्ट अटैक का शिकार होते हैं। हार्ट अटैक से बचने के लिए हमे नियमित रूप से मैडिटेशन करना चाहिए, हमे अपनी डाइट पर ध्यान देना चाहिए। यदि हमारा लाइफस्टाइल अच्छा होता हैं तो हार्ट अटैक आने के बहुत ही कम चांस होते हैं।

About admin

Check Also

माफिया मुख्तार अंसारी को जहर देने के आरोपों पर बड़ा खुलासा

मुख्तार को जेल में जहर देने का मामला ठंडे बस्ते में जाता नजर आ रहा …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *