कीरतपुर साहिब के श्मशान घाट में रहने वाले बुजुर्ग बाबा लोगों के लिए बने प्रेरणा स्रोत

0
209
punjab

ऐतिहासिक नगरी किरतपुर साहिब के गुरुद्वारा पातालपुरी साहेब के नजदीक सपना दरिया के किनारे पर बने श्मशान घाट पर रहने वाले बंगाली बाबा लोगों के लिए प्रेरणा स्रोत बन रहे हैं| जो काम सरकार यह समाज सेवी संस्थाएं नहीं करवा सकी वह काम यह अकेले बंगाली बाबा बड़ी लगन के साथ करवा रहे हैं| 7 साल पहले कोलकाता के रहने वाले तपन कुमार उर्फ बंगाली बाबा कीरतपुर साहिब के श्मशान घाट में आए और जब वे यहां पर आए तो उस समय श्मशान घाट पर सिर्फ एक ही कमरा बना था और मृतक प्राणियों के संस्कार के लिए केवल एक ही शब्द बनी हुई थी और जब कभी मौसम खराब हो जाता था तो मृतक प्राणियों का संस्कार इस पेड के नीचे किया जाता था वरना अच्छे मौसम में लोग मृतकों का संस्कार सतलुज दरिया के बिल्कुल किनारे पर कच्ची जगह के ऊपर नीले आसमान के नीचे करते थे

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here