सफाई को लेकर प्रशासन नहीं गंभीर , टिहरी रोड़ पर गंदगी का आलम

0
24

देश के प्रधानमंत्री ने भले ही पूरे देश में सफाई की अलख जगाई है लेकिन ज्वालामुखी प्रशासन इस अभियान के प्रति बिल्कुल गंभीर नहीं है। ऐसा ही आजकल ज्वालाजी से टिहरी रोड़ तक जगह-जगह मरे पड़े पशुओं के अवशेषों की दयनीय स्थिति को देखकर लग रहा है। इस स्थान पर मरे हुए पशुओं की हडिडयों एवं चमड़े के ढेर से चारो ओर गंदगी का आलम है। ऐसा नहीं है कि इस बात की शिकायत प्रशासन से नहीं की गयी है बल्कि यहां के उपमंडल अधिकारी से लेकर स्थानीय नगर परिषद व वन विभाग के आला अफसरों तक इसकी पूरी जानकारी है, लेकिन वे कारवाई करने से परहेज कर रहे हैं। हालांकि वन विभाग का दावा है कि यहां दूर दराज के क्षेत्रों से आ रही गाड़ियों में लाए जाने वाले मृत पशुओं को लेकर वह गम्भीर है और इस तरह का मामला सामने आए तो वह कड़ी कार्रवायी अमल में लाते हैं। स्थानीय लोगों का आरोप है कि यहां पर गंदगी फैलाने वाले लोग पशुओं की मृत देह से कई प्रकार के व्यापारिक कार्यों को अंजाम देते हैं लेकिन सबसे बड़ी समस्या यह है कि अपना काम पूरा होने पर पशुओं को मिट्टी में दफन नहीं करते हैं। यहां पर फैली गंदगी से पूरा वातावरण प्रदुषण की चपेट में है। लोगों को अब गंभीर बीमारियों के फैलने का अंदेशा हो गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here