गोहाना रैली के लिए रवाना हुई आशा वर्कर्स

0
154

मांगें नही मानी तो, बरौदा उपचुनाव में सरकार को भुगतना पड़ेगा खामियाजा

चरखी दादरी। आशा वर्करों पर हुए लाठीचार्ज व सरकार से बात नही होने व मांगें नही मानने के विरोध में आज सरकार से जबाब लेने के लिए हरियाणा की सभी आशा वर्कर गोहाना में एकत्रित होने जा रही हैं। दादरी में मांगों के विरोध में बुधवार को कर्मचारियों के साथ मिलकर सडक़ों पर उतरते हुए रोष प्रदर्शन कर सीएम का पुतला फूंकते हुए बरौदा उपचुनाव में पहुंचकर सरकार की खिलाफत करने का अल्टीमेटम दिया था। उसी के विरोध में आज दादरी जिले से सभी आशा वर्कर गोहाना में एकत्रित होने जा रही हैं। दादरी के रोज गार्डन के सामने सुबह गोहाना जाने पहले एकत्रित हुई आशा वर्करों ने कहा कि करनाल में वे अपनी बात रखने के लिए सीएम सेे मिलने पहुंची थी। लेकिन उनकी बात सुनने की बजाए लाठियां बरसाई गई।

आर्शा वर्कर्स नेत्री राज्य उप प्रधान कमलेश भरैवी ने कहा कि प्रदेश भर की आशा वर्कर्स गोहाना में आज जुटेंगी और सीएम से जवाब तलब करेंगी। मांग पूरी नहीं होने पर बरौदा उपचुनाव में सरकार के खिलाफ प्रचार करेंगी। उन्हानें कहा कि हमारी कोई नई मांग नही है सरकार द्वारा मांगों को लेकर 2018 में समझोता होने के बाद भी उनकी मांगों को पूरा नही किया है और बीस तारीख प्रतिनिधि मंडल से बात करने का टाइम दिया था लेकिन आचार संहिता का बहाना बनाकर मुकर गई और उनसे मुलाकात नही करवाई गई। इससे पहले भी तीन बार सरकार ने मिलने का समय दिया था। राज्य उप प्रधान कमलेश भरैवी ने कहा कि इन सभी बातों को लेकर पूरे गुस्से में वो गोहाना रैली करने जा रहे हैं। अगर सरकार उनसे बात नही करती है तो होने वाले बरौदा उपचुनाव में सरकार को भुगतना पड़ेगा। जिसको लेकर सरकार से जबाब तलब करने को वो सब गोहाना जा रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here