मांगों को लेकर आशा वर्करों ने दिया धरना

0
148

अपनी विभिन्न मांगों को लेकर जिलाभर की आशा वर्करों ने सरकार के खिलाफ लामबद्ध होना शुरू कर दिया है। आशा वर्करों ने झज्जर के नागरिक अस्पताल के प्रांगण में धरना दिया। धरने की अध्यक्षता पूनम डाबोदा व पूनम छारा ने की। जबकि धरने का संचालन अनिल भागलपुरी ने किया। धरने को सम्बोधित करते हुए उक्त तीनों नेताओं ने सरकार पर आशा वर्करों के साथ वायदा खिलाफी करने का आरोप लगाया। इनकी मांग थी कि सरकार आशा वर्करों के हित में 2018 में जारी किए गए नोटिफिकेशन को हूबहू लागू करे। उन्होंने कहा कि साल 2018 में स्वास्थ्य मंत्री के साथ हुई उनके संगठन की बातचीत में केवल 4000 रूपए फिक्स किए गए थे,वहीं मिल रहे है। जबकि उनकी अन्य मांगें पैडिंग पड़ी है। जिसे जल्द से जल्द पूरा किया जाएगा। संगठन के प्रदेशाध्यक्ष ने कहा कि सरकार आशा वर्करों को रूटीन की एक्टीविटी के 50 प्रतिशत वापिस दे। आशा वर्करों ने तय किया कि जब तक सरकार उनकी मांगों को पूरा नहीं कर देती तब तक वह हर रोज दो घंटे नागरिक अस्पताल के प्रांगण में धरना देंगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here