Breaking News

बीबा हरसिमरत कौर बादल द्वारा किसानों को हुए भारी नुकसान की भरपाई के लिए वित्तीय पैकेज की मांग

बठिंडा की सांसद बीबा हरसिमरत कौर बादल ने आज केंद्र सरकार से पंजाब के किसानों को भारी बारिश और बार बार फसल खराब होने के कारण हाल ही में आई बाढ़ के कारण हुए नुकसान की भरपाई करने के लिए वित्तीय पैकेज देने की मांग की है ।

संसद में बोलते हुए बीबा हरसिमरत कौर बादल ने केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री से एम्स बठिंडा में ट्रॉमा सेंटर को 300 बिस्तरों में अपग्रेड करने के लिए फंड स्वीकृत करने का अनुरोध किया है। उन्होने कहा कि संस्थान का आपातकालीन ब्लॉक केवल 28 इमरजेंसी संभाल सकता है। उन्होने कहा, ‘‘ चूंकि तीन राष्ट्रीय राजमार्ग और दो राज्य राजमार्ग शहर के बीच से गुजरते हैं, जिसके कारण बहुत ज्यादा दुर्घटनाएं होती हैं। इसके अलावा शहर में सेना और वायुसेना दोनों छावनियां होने के कारण एम्स बठिंडा के ट्रॉमा सेंटर को तुरंत अपग्रेड किया जाना चाहिए’’।

बीबा बादल ने इस बात पर भी ध्यान केंद्रित किया कि कैसे आप पार्टी की सरकार आयुष्मान भारत सेहत बीमा योजना को लागू करने में अपने कर्तव्य में कैसे विफल रही है और कैसे राज्य में निजी और सरकारी अस्पतालों पर 300 करोड़ रूपया बकाया है। उन्होने इस बारे में अन्य जानकारी देते हुए कहा कि कैसे पंजाबियों को पिछली कांग्रेस सरकार के साथ साथ वर्तमान में आप पार्टी की सरकार दोनों ने जिस बीमा कंपनी ने पंजाबियों को स्वास्थ्य कवर से वंचित कर दिया था, जिसने अपने अनुबंध में चूक की , के खिलाफ कोई कार्रवाई करने में विफल रहे हैं। उन्होने केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री से सरकारी अधिकारियों और पंजाब के लोगों के साथ धोखाधड़ी करने वाली बीमा कंपनी दोनों के खिलाफ कार्रवाई करने का अनुरोध किया है।

इससे पहले पंजाब के किसानों के लिए वित्तीय पैकेज की मांग करते हुए बठिंडा की सांसद ने कहा कि कैसे किसानों को उनकी पिछली गेंहू की फसल और वर्तमान धान की फसल के अलावा उनकी कपास की फसल खराब हो गई हैं। उन्होने कहा कि मार्च में अचानक तापमान बढ़ने के कारण पंजाब में गेंहू की पैदावार कम हुई, जबकि मालवा क्षेत्र में लगातार बारिश के कारण बाढ़ के कारण धान की मौजूदा फसल खराब हो गई । उन्होने कहा कि पहले किसानों ने गुलाबी सुंडी और सफेद मक्खी के हमलों के कारण लगातार तीन कपास की फसलें खराब होते देखी हैं।

बठिंडा सांसद ने बताया कि कैसे आप पार्टी की सरकार पीड़ित किसानों के लिए कुछ भी करने मे नाकाम रही है तथा मुख्यमंत्री भगवंत मान ने किसानों से मिलने और उन्हे राहत देने के बजाय सिर्फ हवाई दौरा किया। उन्होने कहा कि ‘‘ यह शिरोमणी अकाली दल के अध्यक्ष सरदार सुखबीर सिंह बादल और अकाली कार्यकर्ताओं पर छोड़ दिया गया कि वे राहत उपाय करें। मैंने भी इस कार्य में योगदान दिया है , लेकिन अभी भी बहुत कुछ किए जाने की जरूरत है और किसानों के साथ साथ कृषि मजदूरों के नुकसान को कवर करने के लिए एक वित्तीय पैकेज प्रदान किया जाना चाहिए। उन्होने मुख्यमंत्री भगवंत मान के साथ आप पार्टी की सरकार की उदासीनता के कारण किसानों को हुए नुकसान के बारे में भी बताया कि उन्होने किसानों से मूंग की बुवाई करने का आग्रह किया और इसे 7,225 रूपये के न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) पर खरीदने का वादा किया था, लेकिन उन्हे निजी कंपनियों की दया पर छोड़ दिया गया। उन्होने कहा, ‘‘ जबकि राज्य की मंडियों में चार लाख टन मूंग की आवक हुई, लकिन इसमें से केवल दस फीसदी ही सरकारी एजेंसियों द्वारा खरीदा गया ’’।

About ANV News

Check Also

राम मंदिर में आयोजित जन्माष्टमी कार्यक्रम में डॉ. सिकंदर कुमार ने लिया हिस्सा

शिमला, भाजपा के प्रदेश कोषाध्यक्ष एवं अध्यक्ष सूद सभा संजय सूद ने कहा कि सूद …

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Share