Tuesday , July 23 2024
Breaking News

सीडीएलयू का प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में दक्षता की ओर एक बड़ा कदम, यूआईटीडीसी सेंटर का डिप्टी सीएम ने किया उद्घाटन

चंडीगढ़ , 4 दिसम्बर। हरियाणा के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला द्वारा आज चौ. देवीलाल विश्वविद्यालय सिरसा में सूचना प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में एक नया आयाम स्थापित करते हुए महत्वाकांक्षी यूआईटीडीसी सेंटर का शुभारंभ किया गया। इस अवसर पर दुष्यंत चौटाला ने संबोधन में कहा कि वर्तमान समय टेक्नोलॉजी का है और सीडीएलयू कैंपस प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में पूर्णतः निपुण बन चुका है। उन्होंने कहा कि इस प्रकार का अत्याधुनिक आईटी सेंटर स्थापित करने वाली चौ. देवीलाल विश्वविद्यालय प्रदेश का पहला विश्वविद्यालय है। उन्होंने स्टाफ सदस्यों से आह्वान किया कि विश्वविद्यालय आईटी सुविधाओं का बेहतर तरीके से उपयोग करते हुए देश के विकास में योगदान सुनिश्चित करे। उन्होंने कहा कि विश्वविद्यालय से निकलने वाले न्यू आइडिया ही विश्वविद्यालय का नाम रोशन करते हैं। उन्होंने कहा कि प्राध्यापकों को नवीनतम ज्ञान अर्जित करके विद्यार्थियों को भी अधिक से अधिक ज्ञान हासिल करने के लिए प्रेरित करना चाहिए।

दुष्यंत चौटाला ने कहा कि ज्ञान को समेट कर रखने से वह नहीं बढ़ता बल्कि ज्ञान बांटने से ही ज्ञान बढ़ता है। उन्होंने अनेक विकसित राष्ट्रों के शैक्षणिक संस्थानों एवं उनके द्वारा अपनाई जा रही तकनीकों के बारे में जानकारी साझा करते हुए कहा कि वैश्विक मानकों को ध्यान में रखकर हमें भावी योजनाएं तैयार करनी चाहिए।

इस अवसर पर विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. अजमेर सिंह मलिक ने कहा कि शिक्षा के क्षेत्र में मानवीय गुणों का समावेश करके शिक्षण को सर्वोच्चत्म स्तर तक ले जाया जा सकता है। उन्होंने कहा कि भारत के उपप्रधानमंत्री चौ. देवी लाल के नाम से बने इस विश्वविद्यालय ने इस क्षेत्र की उच्चतर शिक्षा संबंधित जरूरतों को पूरा करने में महत्वपूर्ण भूमिका अदा की है। मुख्य अतिथि का स्वागत डीन एकेडमिक अफेयर्स प्रो. एसके गहलावत ने किया। धन्यवाद प्रस्ताव कुलसचिव डॉ राजेश बंसल द्वारा किया गया। कार्यक्रम का संचालन प्रो. राजकुमार द्वारा किया गया। इस अवसर पर विभिन्न संकायों के डीन, चेयरपर्सन व प्राध्यापक गण उपस्थित थे और विश्वविद्यालय की बेहतरी के अनेक सुझाव इनके द्वारा पेश किए गए।

सीडीएलयू के यूआईटीडीसी भवन का उद्घाटन

सीडीएलयू प्रांगण में लगभग 9.80 करोड़ रुपये से अधिक की लागत से यूनिवर्सिटी आईटी डेटा एंड कंप्यूटर सेंटर का निर्माण करवाया गया। तीन मंजिला भवन का उद्घाटन करने के बाद पूरी डिप्टी सीएम ने पूरे भवन का दौरा किया। इस भवन में 20 कमरे हैं तथा 7 कम्प्यूटर लैब, सिस्टम एनालिस्ट रूप, वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग रूम, हार्डवेयर तथा सॉफ्टवेयर स्टोर आदि की व्यवस्था है। सेंटर में करीब 350 कम्प्यूटर स्थापित होंगे। जिससे विश्वविद्यालय का पूर्ण रूप से डिजिटलाइजेशन करने का सपना भी पूरा होगा और विद्यार्थियों को फायदा होगा। विश्वविद्यालय एनटीए (नेशनल टैस्टिंग एजेंसी) का सेंटर स्थापित करने की प्रक्रिया पूरी होने वाली है। यूआईटीडीसी डायरेक्टर प्रो. सुशील कुमार ने कहा कि इस सेंटर से विद्यार्थियों को व्यवहारिक ज्ञान अर्जित करने में मदद मिलेगी।

About admin

Check Also

गंदगी के चलते लोगों को करना पड़ रहा था बड़ी समस्या का सामना

बल्लभगढ़ के दशहरा ग्राउंड में नगर निगम द्वारा पिछले काफी समय से पूरे शहर के …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *