यमुनानगर में दिखी कांग्रेस की गुटबाज़ी

0
271

आप ही सुनिए कांग्रेस के आगाज़ से पहले ही यमुनानगर में क्या हो रहा है। निर्मल चौहान ने पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि मैं कांग्रेस की छोटी सी कार्यकर्ता करता हूं।कांग्रेस की सच्ची सिपाही हूं। कुछ हमारे बड़े नेता कांग्रेस के मालिक बन कर बैठ गए हैं उन्हीं के पास इन दफ्तरों की चाबी है। बार-बार फोन करने के बाद भी कभी किसी के पास तो कभी किसी के पास इस दफ्तर की चाबी बता रहे हैं ।पिछले 50 साल से कांग्रेस का दफ्तर यही है ।आज वह अपने फोन बंद कर के बैठे हैं नहीं ताला खुलेंगे हम तो बरामदे में ही बैठ जाएंगे ।मैं तो गरीब किसान की बेटी हूं मेरे साथी भी मेरे साथ यही बाहर बैठे हैं हम यही बरामदे में बैठकर काम कर लेंगे। जिनका हमें पता लगा हमने फोन भी किया मैं उनके घर भी गई थी नॉमिनेशन के बाद सब ने कहा कि यहां की सफाई करने के बाद यहां खोले। आज सफाई कर्मचारी सफाई करवाई गई टेंट वाले भी यहां पर आए उसके बाद उन्होंने यह सब किया बोले कि 2 बजे तक सब हो जाएगा। लेकिन 2 बजे जब पहुंची तो बोले कि पारसनाथ जी के पास चाबी है मैंने उनको भी कहा कि आप कांग्रेस के सिपाही हैं ।तो मैंने उनको कहा कि मैं कांग्रेस से यहां से प्रत्याशी हूं मुझे कांग्रेस का आशीर्वाद मिला है तब उन्होंने कहा कि जो यहां के मालिक बने बैठे हैं ।उनका फोन करवाओ तब चाबी मिलेगी मैंने तो सबको समय दे रखा था हमने बरामदे में बैठकर अपना काम शुरू कर दिया । क्या हाईकमान से इस बारे बात करेंगे ।एक बार हमारे साथी कार्यकर्ता सभी भाई आ रहे हैं  फिर इस बारे में हम सब चर्चा करेंगे। जब उनसे पूछा गया कि क्या यह सब टिकट वितरण को लेकर हो रहा है इस बारे में निर्मल चौहान ने कहा कि यह सब तो वही बताएंगे कि उन्हें क्या दर्द हो रहा है ।मुझे तो पार्टी ने जो आदेश दिया मुझे वह कर्म करना है मैं तो एक पार्टी की छोटी सी सिपाही हूं। वही तो पूछा क्या कि अशोक तवर ने भी कांग्रेस से इस्तीफा दे दिया है तो इस पर निर्भर जाने कहा कि हम कांग्रेसी हैं कौन में कांग्रेस है तो कांग्रेस ही रहेंगे जब तक जिएंगे कांग्रेसी रहेंगे। जिन लोगों ने ताला लगाया है वह घरो में बैठे हैं तभी  कांग्रेस का यह हाल हो रहा है। उन्होंने कहा कि जब ताला नहीं खुलेगा तब यही वहीं पर शुरुआत करेंगे ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here