Corona का कहर कुल्लू भी अब लॉकडाउन

0
270

डीसी ने लाॅकडाउन में कुल्लूवासियों से मांगा सहयोग

उपायुक्त डाॅ. ऋचा वर्मा ने कहा है कि कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए हिमाचल प्रदेश सरकार ने पूरे राज्य में लाॅकडाउन की घोषणा कर दी है। लोक हित में आगामी आदेश तक पूरा हिमाचल प्रदेश लाॅकडाउन रहेगा। उन्होंने कहा कि इस अवधि में लोगों को घर पर ही रहना होगा। बहुत जरूरी काम होने की स्थिति में ही घरों से बाहर आ सकेंगे। इसके लिए भी एक परिवार से एक व्यक्ति ही बाहर निकले।

डीसी ने कहा कि मेडिकल व अन्य आवश्यक सेवाओं को छोड़कर अन्य सभी व्यापारिक प्रतिष्ठान पूरी तरह से बंद रहेंगे। बस, टैक्सी व आॅटो जैसी परिवहन सेवाएं भी प्रतिबंधित रहेंगी। आपात स्थिति में ही लोग घरों से बाहर निकल पाएंगे। जिला में धार्मिक, सांस्कृतिक, राजनीतिक और सामाजिक कार्यक्रमों तथा लोगों की भीड़ जमा होने पर पूर्ण प्रतिबंध लगाया गया है।

उपायुक्त ने कहा हालांकि अनिवार्य सेवाओं व उनके उत्पादन, सप्लाई, ट्रांसपोर्ट व अन्य लाॅजिस्टिक पर रोक नहीं होगी। इमरजेंसी व जरूरी काम देख रहे कर्मचारियों एवं कानून व व्यवस्था की स्थिति संभाल रहे कर्मचारियों को इन आदेशों से छूट दी गई है।

जमाखोरी पर होगी कड़ी कार्रवाई

जिला दण्डाधिकारी डाॅ. ऋचा ने कहा कि जिला में जरूरी वस्तुओं की जमाखोरी और मुनाफाखोरी से सख्ती से निपटा जाएगा। उन्होंने कहा कि सरकार ने विभिन्न सार्वजनिक उपयोगिता बिलों जैसे बिजली, पानी आदि के भुगतान की तिथि को बिना किसी अतिरिक्त शुल्क के स्थगित करने का निर्णय लिया है, इसलिए लोग बिलों के भुगतान के लिए दफ्तरों के चक्कर न लगाएं।

जिला में नहीं है आवश्यक वस्तुओं की कमी

उपायुक्त ने कहा कि जिला के किसी भी भाग में खाद्यान्न सहित आवश्यक वस्तुओं की कमी नहीं है। लोगों को अनावश्यक भण्डारण करने की आवश्यकता नहीं है। उन्हें सहज रूप से आवश्यक वस्तुएं उपलब्ध रहेंगी।
विदेश से लौटे व्यक्तियों का होगा पंजीकरण

डीसी ने कहा कि नौ मार्च के बाद विदेश से लौटे लोगों को अनिवार्य रूप से टोल फ्री नंबर 104 पर पंजीकरण कराना होगा और होम क्वारंटाईन में ही रहना होगा। आदेश न मानने वालों के विरुद्ध कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here