Breaking News
Himachal News

राधाष्टमी पर श्रद्धालुओं ने डल झील में लगाई आस्था की डुबकी, भारी संख्या में डल झील पहुंचे श्रद्धालु

छोटे मणिमहेश यानि मैक्लोडगंज स्थित डल झील में राधाष्टमी पर श्रद्धालुओं ने आस्था की डुबकी लगाई मंदिर के पुजारी सुभाष चंद ने सुबह डल शुद्धिकरण के साथ स्नान का शुभारंभ किया। इसके बाद श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ गई दोपहर दो बजे तक करीब 10 हजार श्रद्धालु पवित्र स्नान कर चुके थे। स्नान के बाद श्रद्धालुओं ने दुर्वेश्वर महादेव मंदिर में पूजा-अर्चना करने के बाद प्रसाद ग्रहण किया। झील में स्नान के दौरान श्रद्धालुओं की सुविधा व सुरक्षा के लिए प्रशासन की और से सभी प्रबंध किए थे। इस बार कोई अनहोनी घटना ना घटे इसके लिए गोताखोर भी बुलाए गए थे। शनिवार को भारी संख्या में दूर-दूर से श्रद्धालु डलझील पहुंचे हुए थे। डल झील में महिलाओं के स्नान के लिए अलग प्रावधान किया गया था, ताकि उन्हें कोई परेशानी न हो बताया जाता है कि जो लोग जिला चंबा के भरमौर स्थित मणिमहेश की पवित्र डल लेक तक स्नान करने के नहीं पहुंच पाते हैं, वो श्रद्धालु धर्मशाला के नड्डी स्थित डल झील में स्नान करके मणिमहेश के समान स्नान का पुण्य फल प्राप्त कर लेते हैं।

वहीं इस बारे में जानकारी देते हुए मैक्लोडगंज पुलिस थाना के प्रभारी रिंकू सूर्यवंशी ने बताया कि हर वर्ष की भांति इस वर्ष भी डल झील में पवित्र स्नान की व्यवस्था की गई है उन्होंने कहा कि लोगों में इस डल झील को लेकर ऐसी आस्था है कि जो लोग मणिमहेश नही जा सकते व लोग इस झील में नहाते है और उन लोगों को वही पूण्य प्राप्त होता है जो मणिमहेश की डल झील में नहाकर लोगों को प्राप्त होता है उन्होंने बताया कि पुलिस प्रशासन की और से श्रद्धालुओं के लिए सभी तरह की व्यवस्था कर दी गई है और इसी के साथ पुलिस की एक अतिरिक्त बटालियन को भी तैनात किया गया है।

वही धर्मशाला के एसडीएम धर्मेश रामोत्रा ने कहा कि राधा अष्टमी के दिन जिला चंबा के मणिमहेश में वह धर्मशाला के दल झील में पवित्र स्नान लोगों द्वारा किया जाता है उन्होंने कहा कि इस पवित्र स्नान को लेकर जिला कांगड़ा प्रशासन ने अपनी सभी तैयारी पहले ही पूरी कर ली थी और महिलाओं के नहाने के लिए अलग से व्यवस्था प्रशासन द्वारा की गई थी। उन्होंने कहा कि इस झील में नहाने के लिए जिला चंबा जिला कांगड़ा सहित अन्य जिलों से भी लोग यहां पर पहुंचते हैं और राधाष्टमी के दिन इस डल झील में आस्था की डुबकी लगाते हैं उन्होंने कहा कि धर्मशाला में मौसम साफ बने रहने के कारण भारी संख्या में श्रद्धालु आज यहां डल झील में पहुंचे हैं उन्होंने कहा कि इस पवित्र स्नान के दौरान विभिन्न संस्थाओं द्वारा श्रद्धालुओं के लिए अलंकार की भी व्यवस्था की गई है जिसमें साफ सफाई का विशेष ध्यान रखा जा रहा है।

वही धर्मशाला के स्थानीय निवासी राजीव महाजन ने कहा कि उनके द्वारा भी राधाष्टमी के दिन इस पवित्र स्नान पर आने वाले श्रद्धालुओं के लिए लंगर की व्यवस्था की गई है और काफी संख्या में श्रद्धालु डल झील पहुंच रहे हैं। उन्होंने कहा कि जिला कांगड़ा प्रशासन द्वारा वह पुलिस प्रशासन द्वारा श्रद्धालुओं की सुविधा को देखते हुए तमाम सुविधाएं श्रद्धालुओं को दी जा रही हैं और इसी के साथ यातायात व्यवस्था को सुचारू रूप से बनाए रखने के लिए भी अतिरिक्त पुलिस बल को तैनात किया गया है।

About ANV News

Check Also

Himachal News

Himachal: राजकीय आदर्श वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय सरकाघाट की बेटियों ने सीखे आत्म रक्षा के गुर।

सरकाघाट। राजकीय आदर्श वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय सरकाघाट में 23 नवंबर से 28 नवंबर तक विद्यालय …

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Share