Mewat : जिला पार्षद समाजसेवियों ने राष्ट्रपति के नाम भेजा ज्ञापन !

0
188

मेवात में रेल, यूनिवर्सिटी, नूंह से राजस्थान बॉर्डर तक फॉर लेन बनाने, सरकारी गैरसरकारी संस्थाओं में 75 फीसदी मेवात के युवाओं को नोकरी देने सही आधा दर्जन मांगो को लेकर पिनगवां खण्ड के एक दर्जन पूर्व व मौजूदा पंच, सरपंच, जिला पार्षद व समाजसेवियों की बैठक कर राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन भेजा गया।

इस मौके पर सभी सरपंच व पार्षदों ने एक जुट होकर सभी मांगों के लिए एक जुट होने का भरोसा दिया। सभी ने यह भी चेतावनी देते हुऐ कहा अगर जल्द ही सरकार ने उनकी मांगों पर गौर नहीं किया तो उनको मजबूर होकर धरना प्रदर्शन करने की चेतावनी दी है !

इस मौके पर वरिष्ठ ऐडवोकेट जावेद खान, एडवोकेट एवम सरपंच सरफराज ने बताया कि आज आजादी के 73 साल बाद भी मेवात विकास की मुख्य धारा से जुडा नहीं है। यह बाद तीन साल पहले खुद निति आयोग ने मेवात को देश के जिलों में 101 स्थान पर रखकर दिखा दिया था। उस समय सरकार ने कहा था कि मेवात को अन्य जिलों के बराबर लाने के हर संभव प्रयास किए जाऐगें लेकिन ऐसा कुछ नहीं हुआ बल्कि मेवात आज भी देश में सबसे पिछडा जिला है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here