Tuesday , April 23 2024
Breaking News

पराली में आग नहीं लगाकर करें प्रबंधन का कार्य – सांसद नायब सिंह सैनी

कैथल। सांसद नायब सिंह सैनी ने कहा कि संबंधित अधिकारी जिला में ग्रामीण सड़कों का सर्वे करके जल्द रिपोर्ट सोंपे ताकि उन सड़कों की प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के तहत मरम्मत करवाया जा सके। शोर्ट टर्म कार्यों को प्राथमिकता से पूरा करवाएं, टेंडर प्रक्रिया के बाद तुरंत ही विकास कार्यों को शुरू करवाकर समय अवधि में पूरा करवाएं। सांसद निधि कोष के तहत जितने भी विकास कार्य मंजूर किए गए हैं, उनमें से कुछ पूरे हो चुके हैं, कुछ पर कार्य चल रहा है। इन कार्यों को जल्द पूरा करें, ताकि संबंधित व्यक्तियों को इसका लाभ मिल सके। सांसद द्वारा गोद लिए गांव हजवाना में स्कूल भवन के लिए 80 लाख रुपये की राशि भेजी गई है, इस कार्य को जल्द पूरा किया जाए।

सांसद नायब सिंह सैनी लघु सचिवालय स्थित सभागार में आयोजित जिला समन्वय एवं निगरानी समिति की बैठक में रखे गए विषयों के तहत चल रहे विकास कार्यों में बिंदूवार समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने मार्किटिंग बोर्ड, लोक निर्माण विभाग के तहत सड़कों के सुधारीकरण एवं निर्माण कार्य की व्यवस्था के तहत अधिकारियों को गांव की सड़कों की सूची देने के निर्देश भी दिए। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मार्गदर्शन और मुख्यमंत्री मनोहर लाल के नेतृत्व में देश व प्रदेश में एक समान विकास कार्य करवाए जा रहे हैं। जन हित के कार्याें को पूरा करने में विलंब नहीं होना चाहिए। संबंधित अधिकारी कार्य पूरा होने की रिपोर्ट भी समय पर देते रहें।

सांसद नायब सिंह सैनी ने कहा कि ग्राम सचिवों के माध्यम से मुनयादी करवाकर ओडीएफ प्लस के तहत गांवों में जरूरतमंद गरीब व्यक्तियों से शौचालय बनवाने के आवेदन मांगे और उनको सुविधा देते हुए उनके लिए शौचालय बनवाने का कार्य करें। उन्होंने संबंधित अधिकारियों को प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम योजनाओं की सूची तैयार करने और उन पर कार्य करने के निर्देश दिए। इस सूची अनुसार विकास कार्यों को एक-एक करके पूरा करवाएं। उन्होंने कहा कि आदर्श गांवों में स्वच्छता पर विशेष ध्यान दें और इन गांवों में शत प्रतिशत आयुष्मान कार्ड बनवाए जाए।

सांसद नायब सिंह सैनी ने किसानों से आह्वान करते हुए कहा कि वे पर्यावरण संरक्षण हेतू पराली में आग नहीं लगाए, बल्कि उसका प्रबंधन करके उसे अपनी आय का जरिया बनाए। सरकार द्वारा पराली प्रबंधन हेतू अनेक योजनाओं के साथ-साथ किसानों को प्रोत्साहन राशि भी प्रदान की जा रही है। इसके साथ-साथ किसानों को अनुदान पर पराली प्रबंधन के लिए कृषि यंत्र भी दिए जा रहे हैं। पर्यावरण संरक्षण करना हम सबकी नैतिक जिम्मेदारी है, इसलिए किसानों को चाहिए कि प्रशासन का सहयोग करते हुए जिला को पराली जलाने की घटनाओं से पूरी तरह से मुक्त करें।

सांसद नायब सिंह सैनी ने जिला सचिवालय में पत्रकारों से रूबरू होते हुए कहा की हरियाणा की मनोहर लाल सरकार ने किसानों को 30 से 40 ट्रैक्टर सब्सिडी पर इसी महीने दिए हैं कहा की जब सरकार सारी फैसिलिटी दे रही है मेरा किसानों से निवेदन है कि सरकार द्वारा सभी स्कीमों का लाभ उठाएं ताकि किसानों को पराली ने जलानी पड़े क्योंकि इस पराली के पैसे भी बनेंगे और इसको इकट्ठा करके ट्रैक्टर पर ले जाने का काम भी करेंगे पराली जलाने से हमारी पैदावार तो खराब होगी ही उसके साथ-साथ वातावरण भी दूषित होता उन्होंने किसानों से अपील की है कि वह पराली को इकट्ठा करके जहां-जहां पावर हाउस बने हैं वहां पहुंचने का काम करें जिससे पराली न जलानी पड़े।

About admin

Check Also

माफिया मुख्तार अंसारी को जहर देने के आरोपों पर बड़ा खुलासा

मुख्तार को जेल में जहर देने का मामला ठंडे बस्ते में जाता नजर आ रहा …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *