Breaking News
Rajouri Encounter

अपने संचालक को चरमपंथियों से बचाते वक़्त कुत्ते कैंट की हुई मौत, भारतीय सेना ने तिरंगे में लपेटकर कुत्ते केंट को दिया सम्मान

मंगलवार के बाद से ही भारतीय सेना की ’21 डॉग यूनिट’ की छह वर्षीय मादा लैब्राडोर ‘केंट’ सोशल मीडिया पर काफी सुर्ख़ियों में है। दरअसल, मंगलवार को जम्मू-कश्मीर के राजौरी ज़िले के नारला इलाके में चरमपंथियों के साथ हुई मुठभेड़ के वक़्त अपने संचालक को चरमपंथियों से बचाते समय केंट की मौत हो गई थी। जिस दौरान केंट की मौत हुई तब वह चरमपंथियों की तलाश कर रही सैनिकों की एक टुकड़ी का नेतृत्व कर रही थी और इसी दौरान चरमपंथियों ने गोलीबारी शुरू कर दी और उस दौरान गोली लगने के कारण उसकी मौत हो गई|

इसके बारे में रक्षा मंत्रालय के जम्मू स्थित प्रवक्ता लेफ्टिनेंट कर्नल सुनील बर्तवाल ने बताया, “भारतीय सेना की ’21 आर्मी डॉग यूनिट’ की ट्रैकर डॉग केंट राजौरी में ऑपरेशन सुजालिगला में सबसे आगे थी. कैंट भाग रहे चरमपंथियों की तलाश में सैनिकों की एक टुकड़ी का नेतृत्व कर रही थी और उनका पीछा करने के दौरान, यह भारी गोलीबारी की चपेट में आ गया. अपने हैंडलर (संचालक) की चरमपथियों से रक्षा करते हुए उसने भारतीय सेना की सर्वोत्तम परंपराओं का पालन करते हुए अपना जीवन बलिदान कर दिया और अपने संचालक के लिए शहीद हो गई।”

इस बीच, जम्मू रेंज के अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक मुकेश सिंह ने एक बयान में कहा है, “राजौरी ज़िले के नरला इलाके में हुई मुठभेड़ में अब तक दो चरमपंथी मारे गए हैं और भारतीय सेना का एक जवान भी शहीद हो गया है. इसके इलावा मुठभेड़ के दौरान एक पुलिस एसपीओ सहित तीन अन्य सुरक्षा कर्मी घायल हो गए हैं.” हालांकि, भारतीय सेना ने तिरंगे में लपेटकर कुत्ते केंट को सम्मान दिया।

About ANV News

Check Also

भारतीय सेना की पश्चिमी मोर्चे पर सैन्य अभ्यास करने की योजना

अक्टूबर 2022 में भारतीय सेना के आक्रामक फॉर्मेशन पश्चिमी भारत में एक सैन्य अभ्यास में …

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Share