टोकन के झमेले से किसान परेशान, कर रहे हैं खरीद का इंतजार

0
114

चरखी दादरी। एक तरफ किसान जहां फसल खरीद के दौरान टोकन के झमेलों से परेशान हैं वहीं नंबर नहीं आने के कारण कई दिनों से लगातार मंडियों में फसल लेकर पहुंचे किसान खरीद का इंतजार कर रहे हैं। कपास खरीद के दौरान कई किलोग्राम कटौती करने के विरोध में मार्केट कमेटी कार्यालय में बवाल काटा। किसानों ने टोकन के झमेले व खरीद में कटौती होने पर मंडी अधिकारियों पर आरोप लगाए।

बता दें कि मिलों में कपास की आवक बढऩे से कपास की खरीद बंद कर दी गई थी। एक सप्ताह तक कपास खरीद बंद होने से किसान लगातार मार्केट कमेटी कार्यालय के चक्कर लगा रहे हैं। अनाजमंडी पहुंचे किसान बाबूलाल, वेदप्रकाश, जयभगवान व दिनेश इत्यादि ने बताया कि तीन दिन से वे अपनी फसल लेकर मंडी में आ रहे हैं। लेकिन मंडी अधिकारियों द्वारा उन्हें टोकन ही नहीं दिया जा रहा है। ऐसे में उनको खासी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।

वहीं बाजरा खरीद के लिए किसान टोकन वैरिफाई करवाने के लिए मार्केट कमेटी व डीसी कार्यालय के चक्कर लगा रहे हैं। उन्हें सही जानकारी ही नहीं कि कैसे उनकी फसल खरीदी जाएगी। कपास खरीद में कटौती के नाम पर मिल मालिक अपनी मनमर्जी चला रहे हैं। जिसके कारण किसानों को काफी नुकसान हो रहा है।

खरीद के दौरान किसानों के समक्ष आ रही परेशानियों को लेकर मंडी में पहुंचे किसान संघ के जिलाध्यक्ष अमित कुमार ने बताया कि मंडी अधिकारियों से मिलीभगत करके मिल मालिक किसानों को कटौती के नाम पर हजारों रुपए का चूना लगा रहे हैं। अगर प्रशासन ने कटौती बंद नहीं कि तो किसान संगठन एकजुट होकर बड़ा आंदोलन करने पर मजबूर होंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here