देव संस्कृति को जिंदा रखने के लिए गिने चुने बजंतरी कर रहे प्रयास- मेहर सिंह

0
33

हिमाचल प्रदेश: कुल्लू जिला में अंतराष्ट्रीय दशहरा उत्सव के दौरान ऐतिहासिक रथ मैदान में हुई देवधून को लेकर विवाद करने वालों को देव भूमि बंजतरी कल्याण संघ ने नसीहत दी है… देवभूमि बजंतरी कल्याण संघ के जिलाध्यक्ष महेर सिंह ने बताया कि दशहरा उत्सव को लेकर दशहरा उत्सव कमेटी और कारदार संघ के आहवान पर विश्व शांति के लिए देवधून बजाई जिसमें करीब 22 सौ बजंतरियों ने भाग लिया जिसके बाद इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड में यह देवधून दर्ज हुई और कुल्लू जिला के लिए ये गौरव की बात है उन्होंने कहाकि देवधून को लेकर कुछ लोग राजनीति कर रहे है और लोगों को गुमराह कर रहे है जिससे देवभूमि बजंतरी कल्याण संघ ने देव संस्कृति के बचाने के लिए पूरा प्रयास कर रहा है जिसमें शादी समोराह और नेताओं का स्वागत और धार्मिक अनुष्ठान देवली सहित अन्य कई कार्यक्रमों में विभिन्न प्रकार की धून बजाकर अपनी प्राचीन कलासंस्कृति को बचाने के लिए प्रयास कर रहे है… उन्होंने कहाकि प्रदेश सरकार और प्रशासन कला संस्कृति को बढ़ाने के लिए सहयोग कर रहा है जिससे जिला में आज गिने चुने बंजतरी इस संस्कृति को बचाने के लिए प्रयास कर रहे है लेकिन कुछ लोग बजंतरियों प्रयासों पर टिक्का टिप्पणी कर बजंतरियों को गुमराह कर रहे है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here