Thursday , February 22 2024
Breaking News

हरियाणा पुलिस की नई युक्ति- खेल गतिविधियों से कर रही नशा मुक्ति

चंडीगढ़, 8 जनवरी। पुलिस महानिदेशक शत्रुजीत कपूर ने कहा कि प्रदेश के युवाओं को नशे से दूर रखने के लिए गावो में खेल प्रतिस्पर्धाएं आयोजित की जा रही है। हरियाणा पुलिस द्वारा शुरू की गई इस पहल से जुड़ते हुए युवा बड़ी संख्या में भागीदारी सुनिश्चित कर रहे हैं। इस पहल में पुलिसकर्मी, एक्स सर्विसमैन तथा खिलाड़ी युवाओं के पथ प्रदर्शक का कार्य करते हैं।

पुलिस महानिदेशक ने कहा कि खेल युवाओं की ऊर्जा को सही दिशा में लगाने का सबसे सशक्त माध्यम है जिससे न केवल युवाओं का शारीरिक विकास होगा बल्कि वे भविष्य में भी कई तरह की फिटनेस परीक्षाओं में उत्कृष्ट प्रदर्शन कर सकते हैं। इसी कड़ी में पानीपत जिला में भी युवा खेल महोत्सव का आयोजन किया गया जिसमें 2200 से अधिक युवाओं ने भागीदारी सुनिश्चित करते हुए अपनी प्रतिभा का दमखम दिखाया । इसी प्रकार, जिला हिसार, भिवानी, दादरी, सिरसा, डबवाली, नारनौल, रेवाड़ी, नूंह, पलवल, झज्जर, सोनीपत, पानीपत, करनाल तथा कुरुक्षेत्र में भी खेल गतिविधियां आयोजित करवाई जा रही है।

उन्होंने बताया कि इस पहल से पुलिस में कार्यरत एसपीओ जिनकी उम्र 50 वर्ष से कम है और जो सेना व पैरामिलिट्री में खेलों में अपनी सेवाएं दे चुके है, को गांवों में नियुक्त किया गया है। इसके तहत पुलिस विभाग के एसपीओ, पुलिसकर्मियों तथा खिलाड़ियों द्वारा वहां सुबह व शाम को अधिक से अधिक युवाओं को स्टेडियम में आने के लिए प्रेरित किया जा रहा है। इस दौरान ऐसे खिलाड़ियों की टीम तैयार की जा रही है ताकि वे जिला स्तरीय तथा प्रदेश स्तरीय प्रतियोगिताओं में अपनी भागीदारी सुनिश्चित कर सकें।

पुलिस महानिदेशक ने कहा कि युवा देश का भविष्य है ऐसे में जरूरी है कि उनकी उर्जा का सही दिशा में इस्तेमाल किया जाए। उन्होंने कहा कि खेलों के माध्यम से प्रदेश के युवाओं को नशामुक्ति अभियान से भी जोड़ा जा रहा है ताकि वे स्वयं भी नशे से दूर रहें और अन्य लोगों को भी प्रेरित करें। उन्होंने कहा कि इस कार्य में ग्राम व वार्ड प्रहरी भी पिछले कई महीनो से गांव व वार्ड में नशा बेचने वाले तथा खरीदने वाले आरोपियों का रिकॉर्ड तैयार करते हुए सराहनीय कार्य कर रहे हैं।

कपूर ने बताया कि प्रदेश को नशा मुक्त बनाने के लिए हरियाणा राज्य नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो द्वारा गत वर्ष 1830 जागरूकता अभियान आयोजित किए गए जिसमें 9 लाख 59 हज़ार 205 लोगों ने भाग लिया। इसी प्रकार, नशा तस्कर के खिलाफ अभियान चलाते हुए ब्यूरों द्वारा प्रदेश में गत वर्ष 3823 एफआईआर दर्ज की गई और 5460 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया। इसके अलावा, नशा मुक्ति अभियान के तहत गत वर्ष 1 सितंबर से लेकर 25 सितंबर तक हरियाणा उदय कार्यक्रम के अंतर्गत प्रदेश के मुख्यमंत्री मनोहर लाल के नेतृत्व मे साइक्लोथोन का आयोजन किया गया। इस दौरान प्रदेश के युवाओं को नशे से दूर रहने के लिए प्रेरित करते हुए इसके दुष्प्रभावों के बारे में जानकारी दी गई। कपूर ने आमजन विशेषकर युवाओं से अपील करते हुए कहा कि वे नशे से दूर रहे और अपनी ऊर्जा को सही दिशा में लगाए।

About admin

Check Also

Haryana News

सरप्लस बरसाती पानी के सदुपयोग को लेकर राजस्थान व हरियाणा के बीच हुआ DPR बनाने का समझौता….

चंडीगढ़। मानसून में जुलाई से अक्टूबर के दौरान, जो बरसाती पानी नदी के ज़रिए समुद्र …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *