Thursday , February 22 2024
Breaking News

हरियाणा राज्य प्रवर्तन (एनफोर्समेंट) ब्यूरो ने अवैध खनन को रोकने के लिए 11 जिलों में की छापेमारी – गृह मंत्री अनिल विज

चंडीगढ़। हरियाणा राज्य में अवैध खनन पर रोक लगाने के लिए हरियाणा राज्य प्रवर्तन (एनफोर्समेंट) ब्यूरो (एचएसईएनबी) ने 11 और 12 दिसंबर, 2023 की मध्यरात्रि को राज्य के 11 जिलों में लक्षित छापेमारी की। इन छापेमारी अभियानों के दौरान, 358 वाहनों की जाँच की गई, जिसमें 22 हाइवा/डम्पर, 5 जेसीबी/पोकलेन एक्सकेवेटर और ट्रैक्टर-ट्रॉली/ओवरलोडेड वाहनों सहित 52 वाहनों को जब्त किया गया, जिनका उपयोग अवैध खनन गतिविधियों में किया जा रहा था।

इस संबंध में खुलासा करते हुए गृह मंत्री अनिल विज ने बताया कि हाल ही में गठित हरियाणा राज्य प्रवर्तन ब्यूरो पूरे राज्य में अवैध खनन कार्यों पर खुफिया जानकारी इकट्ठा कर रहा है, जिसमें भूमिगत और खुली सतह दोनों गतिविधियों को शामिल किया गया है। इस बारे में विवरण सांझा करते हुए, उन्होंने कहा कि सभी रैंकों के 480 पुलिस कर्मियों सहित कुल 51 टीमों ने कल रात 11.00 बजे से लेकर आज सुबह तक 30 चौकियों और 66 मोबाइल पार्टियों की स्थापना करके सिंक्रनाइज़ तरीके से छापेमारी की।

विज ने बताया कि रेत खनन के लिए पंचकुला, अंबाला, यमुनानगर, करनाल, पानीपत, सोनीपत, फरीदाबाद और पलवल और पत्थर खनन के लिए नूंह, भिवानी और चरखी दादरी में छापे मारे गए। कम तापमान (8 डिग्री) और कम दृश्यता की चुनौतीपूर्ण परिस्थितियों में भी, किसी भी स्थान पर विशेष अभियान शांतिपूर्ण और बिना किसी दिक्कत व तनाव के संपन्न हुआ।

गृह मंत्री अनिल विज ने हरियाणा राज्य प्रवर्तन ब्यूरो को निर्देश जारी कर राज्य में अवैध खनन और अवैध शराब के खिलाफ अभियान को और अधिक कठोरता और प्रभावशीलता के साथ तेज करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने बताया कि ब्यूरो को अधिक अधिकारी, जनशक्ति और संसाधन उपलब्ध कराए जाने के संबंध में परिवहन, टाउन एंड कंट्री प्लानिंग, बिजली और सिंचाई विभाग के अलावा अन्य हितधारक विभागों के सहयोग से अभियान शुरू किए जाएंगे। उन्होंने इस संबंध में अवैध गतिविधियों में शामिल लोगों को चेतावनी दी कि वे गलत काम करना छोड दें अन्यथा उनके खिलाफ प्रवर्तन ब्यूरो द्वारा सख्त कार्रवाई की जाएगी। राज्य सरकार द्वारा प्रदेश के सभी 22 राजस्व जिलों में सफलतापूर्वक इकाइयां बनाई गई हैं।

हरियाणा राज्य प्रवर्तन ब्यूरो के एडीजीपी डॉ. ए.एस. चावला ने कहा कि ऐसे असामाजिक तत्वों को एक साथ कई स्थानों पर निशाना बनाने से सकारात्मक परिणाम मिलना तय है। एसपी करण गोयल के नेतृत्व में समर्पित प्रवर्तन ब्यूरो इकाइयां (जिला खनन अधिकारियों के समन्वय में) विभिन्न कठिनाइयों और बाधाओं को पार करते हुए ईमानदारी से और प्रभावी प्रदर्शन करते हुए अपने निर्धारित कार्यों के लिए प्रतिबद्ध रहीं है।

About admin

Check Also

Haryana News

सरप्लस बरसाती पानी के सदुपयोग को लेकर राजस्थान व हरियाणा के बीच हुआ DPR बनाने का समझौता….

चंडीगढ़। मानसून में जुलाई से अक्टूबर के दौरान, जो बरसाती पानी नदी के ज़रिए समुद्र …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *