गवर्नमेंट हॉस्पिटल के आइसीयू का हाल जनरल वार्ड से भी बदतर

0
49

सेक्टर-32 स्थित गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल की आइसीयू की हालत का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि यहां भर्ती एक मरीज के बेड पर पैर के पास वॉल हैंगिंग फैन चल रहा था। मरीज दर्द से कराह रहा था, पंखे के कारण बेड पर उसके करवट बदलने तक की जगह नहीं थी। मरीज के परिजन डॉक्टरों और पैरामेडिकल स्टाफ से अनुरोध करके थक चुके थे, लेकिन आइसीयू की बंद पड़ी एसी को ठीक करवाने के लिए दो दिन बाद भी कोई व्यवस्था नहीं हो पाई थी।वहीं आइसीयू में ही भर्ती एक अन्य मरीज के परिजन उससे मिलने आए तो उन्हें प्रोटोकॉल दरकिनार कर बिना गाउन के ही अंदर भेज दिया गया। इतना ही नहीं आइसीयू के अंदर न तो हैंडवॉश करने की व्यवस्था है, न हीं कोई वेटिंग एरिया। ऐसे में वहां जनरल वार्ड की तरह दिनभर लोगों की भीड़ लगी रहती है।गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल में भर्ती गंभीर मरीजों की सेहत के साथ किस कदर खिलवाड़ हो रहा हे इसे आइसीयू में साफ देखा जा सकता है। मानकों की अनदेखी कर मनमाने तरीके से वहां अपना नियम-कानून चलाया जा रहा हैं। आलम यह है कि शिकायत करने वाले परिजन को बाहर करने की धमकी तक दे दी जा रही है। ऐसे में परिजन अपने मरीज का इलाज कराने के लिए मुंह बंद कर सबकुछ देखने को मजबूर हैं। चौंकाने वाली बात यह है कि इस मामले पर न तो जीएमसीएच के डायरेक्टर ¨प्रसिपल कुछ कहने को तैयार हैं न हीं मेडिकल सुपरिंटेंडेंट।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here