देखरेख के अभाव में झाड़ियों में तबदील पेड़-पौधे

0
141

जींद:जुलाना तहसील कार्यालय करीबन 4 साल पहले बनकर तैयार हुआ था और यहां सरकार ने नई बिल्डिंग के साथ-साथ इसके सौंदर्यीकरण के लिए पेड़ पौधे भी लगाए थे जिनकी देखभाल उस समय मौजूद माली करता था… लेकिन अब माली ना होने के कारण पिछले करीब 3 साल से इन पेड़ पौधों की सुध लेने वाला कोई नहीं है और पूरे पार्क और रास्ते पर लगे पेड़ पौधे झाड़ियों में बदलते जा रहे हैं जिस पर यहां से रिटायर हुए एक कर्मचारी की नजर गई…रिटायर कर्मचारी ने जब इस मामले में जुलाना के तहसीलदार और कर्मचारियों से बातचीत की तो माली ना होने की बात कह कर किसी ने कोई कार्रवाई नहीं की… जिसके बाद अब व्यक्ति ने स्वयं ही तहसील कार्यालय में जाकर इन पेड़ पौधे की देखने का काम शुरू किया है… इतना ही नहीं रिटायर कर्मचारी ने जब पेड़ पौधों की दुर्दशा को देखा तो उन्होंने अपने पैसों से मजदूर लगाकर पेड़ पौधों में पानी और उनकी छटाई कटाई शुरु करवा दी है… वह स्वयं भी कर्मचारी मजदूरों के साथ लगकर पेड़ पौधों की देखरेख कर रहा है 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here