जींद के सूगर मिल का जहा कुछ दिन पहले मंत्री बनवारी लाल ने सूगर मिल के अंदर टरर्बाइन चलाकर उद्घाटन किया था जो अब टेक्निक प्रॉब्लम के चलते हुआ बन्द

0
207
jind
jind

जींद के सूगर मिल का जहा कुछ दिन पहले मंत्री बनवारी लाल ने सूगर मिल के अंदर टरर्बाइन चलाकर उद्घाटन किया था जो अब टेक्निक प्रॉब्लम के चलते हुआ बन्द जिसको लेकर किसानों मैं काफी रोष हैंमिल की मेंटेनेंस को लेकर हुए घोटाला ओर किसानों का गन्ना न खरीदने से किसानों ने नेशनल हाइवे 352 पर लगाया जामसहकारी चीनी मिल की टरबाइन में फिर आई तकनीकी खराबी

10 नवंबर से शुरू हुई सहकारी चीनी मिल में दूसरी बार आयी खराबी टरबाइन में आई तकनीकी खराबी के कारण मिल हुई बंद इंजीनियरों की टीम इसकी खामी को दूर करने में लगी हुई है ओर मिल प्रशासन को उम्मीद है कि रात तक मिल शुरू हो जाएगीमिल बंद होने से किसानों को खासी हो रही है

परेशानी पिछले पांच दिन से किसान गन्ना लेकर मिल में बैठे हुए हैंकिसानों ने बार-बार मिल बंद होने पर लगाया जामसहकारिता मंत्री डॉ. बनवारी लाल ने 10 नवंबर को चीनी मिल के 37वें सत्र का शुभारंभ किया था।चीनी मिल तीन दिन ही चली और 13 नवंबर को तकनीकी खराबी आने से बंद हो गई।

शाहाबाद से इंजीनियरों की टीम बुलाई गई। लगभग 60 घंटे के बाद मिल दोबारा शुरू हुई। मिल को चले 24 घंटे भी नहीं हो पाए थे कि सोमवार सुबह सात बजे फिर से टरबाइन में तकनीकी खराबी आ गई और मिल बंद हो गई।इससे मिल में गन्ना लेकर आए किसानों को काफी परेशानी हुई।कुछ किसानों का तो पांच दिन से गन्ना डालने के लिए नंबर ही नहीं आया था।इस कारण वह पांच दिन से मिल में बैठे हैं ओर आज जाम लगा दियाकिसानों ने कहा कि वह पांच दिन से मिल में गन्ने की ट्रॉली लेकर आए हुए हैं,

लेकिन जब तक उनका नंबर आता, मिल दोबारा बंद हो गई।किसानों ने मिल प्रशासन की कार्यप्रणाली पर रोष जताते हुए कहा कि मिल प्रबंधन मिल में सुधार नहीं कर रहा हैबता दे कि पुरानी मिल होने के कारण कोई न कोई मशीन जवाब दे जाती है। पिछले वर्ष मिल के पास 28 लाख क्विंटल गन्ना था। इस बार मिल के पास 38 लाख क्विंटल गन्ना है। गन्ने की मात्रा अधिक होने के कारण मिल को पिछले साल के मुकाबले 12 दिन पहले ही शुरू किया गया था, लेकिन बार-बार खराबी होने के चलते इतनी मात्रा में गन्ने की पेराई हो पाना समय पर संभव नहीं है।मोके पर पहुंचे अधिकारी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here