Thursday , February 22 2024
Breaking News

कुलव्वी वाद्य यंत्रों से गूंजी मनाली, 97 महिला मंडलों की 400 महिलाओं ने लिया भाग…..

मनाली। मनाली विंटर कार्निवाल 2024 में होने वाली महानाटी की तैयारियां तेज हो गई हैं। पर्यटन नगरी मनाली में दो से 6 जनवरी तक आयोजित होने वाले विंटर कार्निवाल में महिलाओं की नाटी मुख्य आकर्षण रहेगी। 3 और 5 जनवरी को मालरोड मनाली में 220 से अधिक महिला मंडलों की 2,000 से अधिक महिलाएं वाद्य यंत्रों की धुन पर कुल्लवी नाटी डालेंगी। इस प्रतियोगिता को रोचक बनाने के लिए विंटर कार्निवाल कमेटी ने मालरोड में कुल्लवी नाटी आयोजित की। मालरोड पर अभ्यास के तौर पर महानाटी डाली गई। राइट बैंक के  96 से अधिक महिला मंडलों की 400 महिलाओं ने महानाटी में भाग लिया। 31 दिसंबर को दाएंतट  के महिला मंडलों को नाटी प्रतियोगिता के गुण सिखाए जाएंगे।

कल्चरल कमेटी की उपसमिति के अध्यक्ष बालक राम ठाकुर ने वाम तट की महिलाओं को नाटी के गुर सिखाए। लगभग 50 मिनट तक चलने वाली इस प्रतियोगिता में 8 से अधिक गानों की धुनें बजाई गई। जिसमें हर धुन में महिलाओं को अलग से नृत्य करना है। स्टैप व तालमेल प्रतियोगिता का हिस्सा रहेगा इसलिए आज अभ्यास करने वाली महिलाओं को इन बातों का ध्यान रखने को कहा गया।

एसडीएम एवं कार्निवाल कमेटी के उपाध्यक्ष रमण कुमार शर्मा ने कहा कि दो से छह जनवरी तक राष्ट्र स्तरीय विंटर कार्निवाल का आयोजन किया जा रहा है। सांस्कृतिक झांकियां, महिलाओं की महानाटी विंटर क्वीन प्रतियोगिता आकर्षण का केंद्र रहेगी। तीन जनवरी को वामतट और पांच जनवरी को दाएं तट की महिलाओं के बीच मालरोड पर महानाटी प्रतियोगिता होगी। विधायक भुवनेश्वर गौड़ ने कहा कि इस बार महिलाओं की सहभागिता अधिक रहेगी।पहली बार महानाटी में 220 महिलाओं ने पंजीकरण करवाया है। महानाटी में पहले स्थान वाली टीम को एक लाख जबकि दूसरे स्थान पर रहने वाली टीम 50 हजार से सम्मानित होगी। उन्होंने मुख्यमंत्री सुखविंदर सुक्खू का आभार जताया कि उन्होंने पिछले साल महिला मंडलों को मिलने वाली राशि को 12 हजार से बढ़ाकर 20 हजार किया था। गौड़ ने बताया कि दो जनवरी को मुख्यमंत्री विंटर कार्निवाल का विधिवत शुरुआत करेंगे।

About admin

Check Also

Haryana News

सरप्लस बरसाती पानी के सदुपयोग को लेकर राजस्थान व हरियाणा के बीच हुआ DPR बनाने का समझौता….

चंडीगढ़। मानसून में जुलाई से अक्टूबर के दौरान, जो बरसाती पानी नदी के ज़रिए समुद्र …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *