Tuesday , April 23 2024
Breaking News

 सांसद नायब सिंह सैनी ने एसबी-89 स्कीम के तहत 37 अनुसूचित जाति के किसानों को सोंपी ट्रैक्टर की चाबी

  कैथल, 

 सासंद नायब सिंह सैनी ने कहा कि धरती मां हम सभी का पेट भरती है। किसानों को चाहिए कि धरती मां का पूरा ख्याल रखे। केंद्र व प्रदेश सरकार किसानों के खेतों में निरंतर कार्य कर रही है। प्रदेश में पहली बार अनुसूचित जाति के किसानों को कृषि कार्य के लिए पहली बार 50 प्रतिशत अनुदान पर ट्रैक्टर दिए गए हैं। जिला के 37 किसानों को अनुदान के रूप में 1 करोड़ 11 लाख रुपये की राशि दी गई है। इतना ही नहीं पूरे प्रदेश में 660 एससी किसानों को 20 करोड़ रुपये की राशि अनुदान की रूप में दी गई है। 

              सांसद नायब सिंह सैनी अतिरिक्त अनाज मंडी में एसबी-89 स्कीम के तहत 37 किसानों को ट्रैक्टर की चाबियां सोंपने के बाद भौतिक सत्यापन समारोह में बोल रहे थे। इस मौके पर बीजेपी जिला अध्यक्ष अशोक गुर्जर, एसडीएम संजय कुमार, डीडीए डॉ. कर्मचंद आदि मौजूद रहे। सांसद ने कहा कि प्रदेश में पर्यावरण के दृष्टिïगत पराली प्रबंधन हेतु विशेष प्रयास किए गए। इससे पहले भी पराली प्रबंधन के लिए किसानों को कृषि यंत्रों हेतू करीब 14 करोड़ रुपये का अनुदान दिया गया है। इसके साथ-साथ ऐसे किसानों, जिन्होंने अपने खेतों में पराली का प्रबंधन किया है, उन्हें अनुदान के रूप में करीब 16 करोड़ रुपये दिए गए हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश में पराली से बिजली बनाने का कार्य किया जा रहा है, जिससे पराली जलाने की घटनाओं कमी आई है और किसान की आमदनी भी बढ़ी है।  

           सांसद ने कहा कि प्रदेश में ट्यूबवैल को सौलर से जोड़ने की योजना है। विशेष प्रयास करके इस योजना के तहत केंद्र से 45 प्रतिशत और प्रदेश से 45 प्रतिशत की अनुदान की प्रावधान करवाया। किसानों को मात्र 10 प्रतिशत की राशि देनी होती है। उन्होंने कहा कि अनुसूचित जाति के किसानों को ट्रैक्टर पर अनुदान देना पुनीत का कार्य है। इससे इन सभी को कृषि कार्य करने में और अधिक सुविधा मिलेगी। उन्होंने कहा कि यह योजना प्रदेश सरकार ने पहली बार चलाई है, जिसके लिए सभी मुख्यमंत्री मनोहर लाल के आभारी हैं।

           बीजेपी जिला अध्यक्ष अशोक गुर्जर ने कहा कि किसान अन्नदाता है। सरकार द्वारा किसानों को जहां कृषि यंत्रों पर अनुदान दिया जा रहा है, वहीं अनुसूचित जाति के किसानों को ट्रैक्टर पर 50 प्रतिशत अनुदान दिया गया है जो कि सराहनी है। प्रदेश सरकार निरंतर किसान के हित में कार्य कर रही है, वहीं आम जन के लिए भी नित नई योजनाएं लागू कर रही है, जिसका लाभ संबंधित व्यक्तियों को सीधा मिल रहा है।  

           कृषि एवं किसान कल्याण विभाग के उप निदेशक डॉ. कर्मचंद ने कहा कि विभाग द्वारा पहली बार अनुसूचित जाति के किसानों को 35 एचपी से ऊपर के ट्रैक्टर पर 50 प्रतिशत अनुदान दिया गया है ताकि इस श्रेणी के किसान भी ट्रैक्टर के साथ-साथ दूसरे कृषि यंत्रों का लाभ ले सकें। दूसरे कृषि यंत्रों का लाभ लेने के लिए किसान के पास ट्रैक्टर होना बहुत जरूरी है। इन सभी किसानों को जिला स्तरीय कमेटी द्वारा भौतिक सत्यापन के माध्यम से ट्रैक्टर सोंपे गए हैं।

About admin

Check Also

माफिया मुख्तार अंसारी को जहर देने के आरोपों पर बड़ा खुलासा

मुख्तार को जेल में जहर देने का मामला ठंडे बस्ते में जाता नजर आ रहा …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *