मोगा में सामने आयी सिविल अस्पताल की लापरवाही

0
23

पिछले दिनों मोगा के सिविल अस्पताल में गांव बजेके की रहने वाली एक महिला ने नवजात शिशु को जन्म दिया। अस्पताल में जब महिला को दर्द उठने लगा तो वहां पर तैनात किसी भी स्टाफ और नर्स ने उसकी बात नहीं सुनी। जिसके चलते बच्चे की डिलीवरी फर्श पर ही हो गई और देर शाम बच्चे को मोगा से फरीदकोट मेडिकल  अस्पताल रेफर किया गया। यह बात मीडिया पर आने के बाद सेहत मंत्री ने इस मामले में CMO को फटकार लगाते हुए जांच कमेटी बिठाने की बात कही। वहीं CMO ने इस मामले में चार डॉक्टरों का पैनल बना कर जाँच कमेटी बिठा दी थी… लेकिन बीती रात फरीदकोट मेडिकल अस्पताल में उस नवजात शिशु की मौत हो गई। वहीं परिवार वालों ने इसका जिम्मेदार सिविल अस्पताल के डॉक्टरों को ठहराया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here