खुले में फेंके जा रहे मरे हुए पशु से बदबू और बीमारियां फैलने से डर के साए में लोग

0
68

सुंदरनगर नगर परिषद के तहत आने वाली चांदपुर डंपिंग साइट से लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है एक तरफ जहां पिछले लंबे अरसे से लोग डंपिंग साइट पर कूड़ा फेंकने की बदबू से परेशान हैं तो अब लोगों के सामने एक नई मुसीबत आ खड़ी है। क्योंकि शहर के और आसपास के क्षेत्रों में जो भी पशु किसी बीमारी या दुर्घटना में मारा जाता है तो उन पशुओं को भी डंपिंग साइट के साथ सुकेती खड्ड में खुले में फेंका जा रहा है। जिससे चारों तरफ बदबू ही बदबू फैल गई है। वही खुले में फेंके पशुओं को आवारा कुत्ते, पक्षी और सूअर नोच नोच कर खा रहे हैं जिससे इसके साथ लगते विभिन्न गांव के लोगों को बदबू का सामना करना पड़ रहा है स्थानीय निवासी ओमप्रकाश ने बताया कि यह समस्या पिछले लंबे समय से है। लेकिन प्रशासन को कई बार इस बारे में। चेताया गया था कि ऐसे मरे हुए पशुओं को खुले में ना फेंका जाए लेकिन प्रशासन ने उनकी एक नहीं सुनी जिसकी वजह से लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। उन्होंने कहा कि एक तरफ जनता कोरोना महामारी से लोग परेशान हैं तो दूसरी ओर डंपिंग साईट की बदबू और मरे हुए पशुओं की बदबू से परेशानी झेलनी पड़ रही है। उनका कहना है कि लोग कोरोना माहामारी से मरे या ना मरे लेकिन इस बदबू से जरूर मर जाएंगे। उन्होंने प्रशासन और नगर परिषद से आग्रह किया है कि इन पशुओं को खुले में न फैंक कोई खाली जगह चिन्हित कर इन पशुओ को दबाया जाये ताकि लोगों को परेशानियों का सामना ना करना पड़े।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here