पंजाब में स्कूल वैन हादसे के बाद जागी पुलिस

0
121

स्कूल ट्रांसपोर्ट पॉलिसी की स्कूल वाहनों द्वारा किस कदर धज्जियां उड़ाई जा रही हैं, यह नजारा चरखी दादरी में भी देखने को मिलता है  एक वैन में बच्चों को ठूंस-ठूंसकर स्कूल ले जाया जा रहा है। एक सीट पर तीन-तीन बच्चों को बैठाया जाता है। इसके अलावा कई ऑटो और कैब तो कंडम हैं और इनमें भी बच्चों को घर से स्कूल तक का सफर कराया जा रहा है। इस तरफ न तो आरटीए विभाग ध्यान दे रहा है और न ही ट्रैफिक पुलिस। हालांकि पंजाब के लोंगवाल में हुए स्कूली वाहन हादसे में चार बच्चों की मौत के बाद पुलिस प्रशासन सर्तक हो गया है। ट्रैफिक पुलिस ने अभियान चलाकर स्कूल वाहनों में सुविधाएं जांची और चालकों को निर्देश व चेतावनी देते हुए छोड़ दिया गया। दादरी जिला में निजी स्कूलों द्वारा स्कूल ट्रांसपोर्ट पॉलिसी की धज्जियां उड़ाई जा रही हैं। सड़कों पर सुबह और दोपहर के समय नियमों को ताक पर रखकर ऑटो और मैक्सी कैब दौड़ रही हैं लेकिन नियमित कार्रवाई नहीं हो पा रही। हालांकि ट्रैफिक पुलिस द्वारा स्कूली वाहनों की चेकिंग की गई। इस दौरान कुछ वाहनों में सीसीटीवी नहीं लगे मिले तो किसी मैक्सी कैब की अगली सीट पर तीन बच्चे बैठे मिले। वहीं, ऑटो में 18 से 20 बच्चे तक बैठे मिले।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here