राजा हरिंदर सिंह बराड़ की 20 हजार करोड़ से अधिक की प्रॉपर्टी पर राजकुमारी अमृत कौर व दीपइंदर कौर का मालिकाना होगा हक

0
166
pun

फरीदकोट के राजा हरिंदर सिंह बराड़ की 20 हजार करोड़ से अधिक की प्रॉपर्टी पर अब राजकुमारी अमृत कौर व दीपइंदर कौर का मालिकाना हक होगा। हाईकोर्ट ने निचली अदालत के फैसले को सही मानते हुए उस पर मोहर लगा दी है, हालांकि अपने फैसले में हाईकोर्ट ने कुछ हिस्से पर महारानी महिंदर कौर का हक़ भी माना है।547 पन्ने के अपने आदेश में जस्टिस राज मोहन सिंह ने निचली अदालत के फैसले के खिलाफ अमृत कौर, दीपइंदर कौर और महरावल खेवाजी ट्रस्ट द्वारा दायर सभी अपीलों को खारिज कर दिया। हाईकोर्ट ने कहा कि हिंदू उत्तराधिकार अधिनियम के तहत महाराजा की मृत्यु के समय महारानी महिंदर कौर जीवित थी ऐसे में इस संपत्ति में वह भी हिस्सेदार हैं।बावजूद इसके ज्यादातर हिस्सा दोनों बेटियों को ही मिलेगा। महारानी अब जीवित नहीं हैं तो निश्चित ही उनके नाम आने वाला हिस्सा उनके द्वारा तय किए गए वारिसों को दिया जाएगा। हाईकोर्ट ने निचली अदालत इसे उस फैसले को बरकरार रखा है, जिसमे महारावल खेवाजी ट्रस्ट को सारी संपत्ति सौंपे जाने की वसीयत को फर्जी बताया था और इस अब हाईकोर्ट ने भी इस ट्रस्ट को अवैध करार दे दिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here