आर एस वर्मा का बयान आया सामने , प्रशासन ने किया किसानों को गिरफ्तार

0
213

प्रदूषण के चलते पराली जलाने को लेकर रोहतक प्रशासन ने किसानों पर एफआईआर दर्ज कर उन्हें गिरफ्तार किया है।राहत की बात ये है कि पूरे हरियाणा में अब तक 7 हजार मामले तो रोहतक में केवल 11 मामले ही दर्ज हुए है। रोहतक उपायुक्त ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर पत्रकारों को जानकारी दी कि किसानों को जागरूक करने के लिए 147 नोडल अधिकारियों की निगरानी में 34 सेक्टर बनाए गए,जिसके तहत प्रत्येक गांव में चार अधिकारी पराली जलाने को लेकर निगरानी रखेंगे। रोहतक उपायुक्त ने बताया कि अभी तक 9 किसानों पर एफआईआर दर्ज की गई है, जिसमें से एक किसान को गिरफ्तार भी किया गया है।गौरतलब है कि प्रशासन की नजरो से बचने के लिए किसानों ने पराली जलाने का अलग तरीका खोज लिया है। अब किसान दिन की बजाए देर रात को पैराली जलाते हैं जिससे प्रदूषण लगातार फैल रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here