Wednesday , February 28 2024
Breaking News

शिवसेना : अभी चल रहे हैं तीरों पे तीर

कमलेश भारतीय
शिवसेना का असली वारिस महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे को बना दिया गया और निर्वाचन आयोग ने चुनाव निशान तीर कमान भी शिंदे को ही दे दिया यानी असली वारिस बना दिया बाल ठाकरे का ! बेटा उद्धव ठाकरे अब अपने ही पिता की बनाई शिवसेना को दोबारा पाने के लिये सुप्रीम कोर्ट तक जायेगा । कोई डीएनए चैक नहीं होगा । भाजपा कहती है कि यदि आप चुनाव आयोग के फैसले का विरोध करते हो तो यह आयोग का अपमान है । हालांकि भाजपा के चाणक्य मतलब अमित शाह कह रहे हैं कि महाराष्ट्र की सत्ता के लिये उद्धव ठाकरे राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के प्रमुख शरद पवार के चरणों में बैठ गये थे , उन्हें इसका सबक मिल गया ! असली शिवसेना धनुष तीर के साथ फिर भाजपा के साथ आ गयी है । शाह भी कमाल की बात कह रहे हैं कि हमें सत्ता का लोभ नहीं , सत्ता के लिए हम सिद्धांतों की बलि नहीं देते ! हमें तो महाराष्ट्र का हित ही सर्वोपरि है ।
इसके जवाब में शिवसेना के राज्यसभा सांसद संजय राउत ने बहुत बडा आरोप लगाते कहा कि शिवसेना के नाम और चुनाव चिन्ह को ‘खरीदने’ के लिए अब तक दो हजार करोड़ रुपये का सौदा हुआ है । देश के इतिहास में कभी ऐसा नहीं हुआ । संजय राउत ने कहा कि वे अपने दावे के पक्ष में सबूतों को जल्द ही सामने लायेंगे ! चुनाव आयोग का फैसला एक सौदा है । उन्होंने यह भी आशंका जाहिर की कि इनके खरीद फरोख्त का भी खतरा है और रेट तय हैं । इसलिये अंदाजा लगा लीजिए कि कितना पैसा खर्च किया जा रहा है !
अगर ये बातें आरोप भी हैं तो भी बहुत अच्छी तो नहीं । सरकार पलटने के लिये करोड़ों रुपये खर्च करने के बाद अब पार्टी और चुनाव चिन्ह भी छीन लेने की बात सचमुच अभी तक इतिहास में नहीं हुई ! यह हमारा अमृत महोत्सव काल है ! संविधान ताक पर रखकर आधी रात को शपथ दिलाकर भी जब सरकार टिकी न रही तब खरीद फरोख्त के आरोप लगे ! कहां नहीं सरकार गिराई । कितनी सरकारें बलि चढ़ गयीं और सिद्धांतों की दुहाई दी जा रही है ! है न कमाल !

About admin

Check Also

PUNJAB -: इंतज़ार हुआ खत्म 2 मार्च से शुरू होंगी इस एयरपोर्ट से उड़ानें, PM मोदी करेंगे उद्घाटन

आखिरकार 2 मार्च को आदमपुर एयरपोर्ट से फ्लाइट्स शुरू होने जा रही हैं। इससे न …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *