दिल्ली के प्रदूषण पर सुप्रीम कोर्ट की केंद्र को फटकार

0
140

दिल्ली-ncr  के दम घोंटू हवा और प्रदूषण पर सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र को कड़ी फटकार लगाई। दिल्ली के लोधी रोड पर पीएम 2.5 एयर क्वालिटी इंडेक्स में 500 का स्तर छू गया. यह बेहद गंभीर स्थिति है. वहीं, मौसम विभाग के अनुसार दिल्ली में प्रदूषण का स्तर इमरजेंसी जोन में आ सकता है… शीर्ष अदालत ने इसके साथ ही केंद्र सरकार को हाइड्रोजन आधारित फ्यूल टेक्नोलॉजी खोजने को कहा है..  सुप्रीम कोर्ट ने इस मामले में केंद्र से 3 दिसंबर तक जवाब मांगा है.सुप्रीम कोर्ट ने प्रदूषण को कम करने में नाकाम रही सरकार को कड़ी फटकार लगाते हुए कहा, ‘नई दिल्ली समेत उत्तरी भारत के अन्य हिस्सों में प्रदूषण का स्तर इतना बढ़ चुका है कि लोगों का सांस लेना दुभर है… एनसीआर वायु प्रदूषण की समस्या से जूझ रहा है.’बता दें कि देश की राजधानी दिल्ली में स्मॉग का कहर इस कदर है कि लोग सूरज के दर्शन करने को तरस गए हैं. ऑड-इवन (Odd-Even) हो, पराली जलाने पर रोक या फिर निर्माण को बंद करना सभी कोशिशें अब नाकाम होती नजर आ रही हैं. दिल्ली और नोएडा में खासकर बढ़ता पॉल्यूशन अब लोगों को परेशान कर रहा है… गौर हो कि एक समय में दिल्ली में प्रदुषण का स्तर एक बार सामान्य हो चूका था। लेकिन अब प्रदुषण का फिर वही हालात है। लोगों को फिर से दूषित हवा का सामना करना पड़ रहा है। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here