Thursday , February 22 2024
Breaking News

पर्यटन नगरी मनाली में नहीं रहेगी वोल्टेज की समस्या – गौड़

मनाली। मनाली के विधायक भुवनेश्वर गौड़ ने कहा कि पर्यटन नगरी में अब लोगों व पर्यटकों को कम वोल्टेज की समस्या का सामना नहीं करना पड़ेगा। मनाली में पत्रकारों से बातचीत में उन्होंने कहा कि कार्निवाल के दौरान मुख्यमंत्री ने विद्युत विभाग को निर्देश दिए थे कि प्रीणी में बन रहे 10 करोड़ के सब स्टेशन को जल्द तैयार किया जाए। गौड के कहा कि विद्युत विभाग के निर्देशों का पालन करते हुए सब स्टेशन को तैयार कर लिया है। अब मनाली में कम वोल्टेज की समस्या नहीं रहेगी। उन्होंने कहा कि इससे पहले फोजल व बजौरा स्टेशनों, से मनाली के लिए बिजली की आपूर्ति होती थी लेकिन अब प्रीणी सब स्टेशन के बन जाने से मनाली व आसपास के क्षेत्रों में कम वोल्टेज की समस्या नहीं रहेगी। गौड़ ने कहा कि होटल कारोबारियों की लम्बे समय से यह मांग चली आ रही थी जिसे सुखविंदर सिंह की सरकार ने पूरा कर दिया है।

उन्होंने कहा कि विंटर सीजन में मनाली आने वाले पर्यटकों को अब हीटर की बेहतर व्यवस्था मिलेगी जिससे ठंड का सामना नहीं करना पड़ेगा। कट नहीं लगेंगे और 24 घण्टे बिजली की आपूर्ति होगी। इसके लिए विधायक ने सीएम का आभार जताया। विधायक ने कहा कि पिछली सरकार के कार्यों को भी धरातल पर उतारा गया है। नई स्कीमों को भी शुरु कर दिया है। मुख्यमंत्री के मार्ग दर्शन व आशीर्वाद से मनाली ने विकास की राह पकड़ ली है और क्षेत्र निरंतर विकास के पथ पर आगे बढ़ रहा है। विवादों में रहे सोलंगनाला पुल की कहानी हर कोई जानता है। सरकार ने उसे भी एक साल में तैयार कर लिया है। जिसका सर्दियों के बाद मुख्यमंत्री शुभारंभ करेंगे।मनाली में प्रदेश की सबसे बड़ी 385 करोड़ की सिबरेज योजना शुरु हो चुकी है जिससे मनाली व आसपास की आठ पंचायतों को लाभ मिलेगा। इस अवसर पर विद्युत विभाग के अधिशाषी अभियंता लोकेश कुमार, प्रदेश कांग्रेस कार्यकारिणी सदस्य नवीन तनवर, वरिष्ठ कांग्रेस नेता गौतम ठाकुर, मनोनीत पार्षद बलबीर जोनी, धर्म चन्द व जगदीश तथा हंस राज शर्मा, बालक राम, राजेन्द्र, सुरेश लारजे, राकेश सोनी, ध्रुव अवस्थी, दुर्गा, बालक राम, रणवीर सिंह मौजूद रहे।

About admin

Check Also

Haryana News

सरप्लस बरसाती पानी के सदुपयोग को लेकर राजस्थान व हरियाणा के बीच हुआ DPR बनाने का समझौता….

चंडीगढ़। मानसून में जुलाई से अक्टूबर के दौरान, जो बरसाती पानी नदी के ज़रिए समुद्र …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *