Sunday , July 14 2024
Breaking News

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री ने अकाली दल के प्रतिनिधिमंडल को हरिद्धार में गुरुद्वारा श्री ज्ञान गोदड़ी साहिब के लिए जमीन आवंटित करने का आश्वासन दिया

देहरादून/चंडीगढ़, 24 दिसंबर। एक बड़े घटनाक्रम में मुख्यमंत्री पुष्कर धामी ने आज शिरोमणी अकाली दल के अध्यक्ष सरदार सुखबीर सिंह बादल की अगुवाई वाले प्रतिनिधिमंडल को हरिद्वार में श्री ज्ञान गोदाड़ी साहिब के लिए जमीन आवंटित करने का आश्वासन दिया है। इस संबंधी आशय का आश्वासन आज सुबह मुख्यमंत्री से मुलाकात के समय अकाली दल के प्रतिनिधिमंडल को दिया गया है। पुष्कर धामी ने गुरुद्वारे के लिए जगह तय करने में शिरोमणी गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी (एसजीपीसी) को सुविधा प्रदान करने का आश्वासन दिया है। इसीलिए एसजीपीसी की एक टीम जल्द ही हरिद्धार जाएगी।

सिख समुदाय की भावनाओं को समझने और उनका सम्मान करने में धामी का आभार प्रकट करते हुए अकाली दल अध्यक्ष ने कहा, ‘‘ यह बेहद गर्व की बात है कि अकाली दल पंथ की हरिद्वार में एक गुरुद्वारा स्थापित करने की लंबे समय से लंबित मांग का समाधान करने में सक्षम रहा है’’। सरदार सुखबीर सिंह बादल ने यहां पत्रकारों से बातचीत करते हुए खुलासा किया कि उत्तराखंड के मुख्यमंत्री उधम सिंह नगर जिले के बाजपुर के हजारों किसानों की शिकायतों का हल करने के लिए सहमत हुए , जो सीलिंग नोटिस के साथ साथ जमीन की बिक्री पर प्रतिबंध का सामना कर रहे थे, जिसे उन्होेने सत्तर साल से पहले पटटे पर लिया था।उन्होने कहा कि बाजपुर में 4805 एकड़ जमीन से जुड़े मामले का समाधान उत्तराखंड के मेहनती सिख किसानों के लिए एक बड़ी राहत होगी, जिन्होने अपने खून-पसीने से उत्तराखंड के जंगलों को हरे-भरे खेतों में बदल दिया है।

इस बारे में अन्य जानकारी देते हुए सरदार बादल ने कहा कि बाजपुर तहसील के 20 गांवों में बसे हजारों लोगों की 4805 एकड़ जमीन पिछले 50 सालों से हस्तांतणीय अधिकारों के साथ भूमिदारों के रूप में दर्ज की गई है। उन्होने कहा कि कृषि क्षेत्रों के अलावा इस क्षेत्र में फैक्टरियां, बाजार, आवासीय काॅलोनियां और स्कूल स्थित थे, जिन्हे अगस्त 1920 से 2013 तब क्राउन ग्रांट एक्ट 1895 के तहत पटटे पर दिया गया था।

सरदार बादल ने कहा कि इस तथ्य के बावजूद यह मामला अभी अदालत में है, उधम सिंह नगर के जिला मजिस्ट्रेट ने उक्त जमीन की बिक्री और खरीद पर प्रतिबंध लगाने के अलावा जमीन मालिकों को सीलिंग नोटिस जारी किए थे। उन्होने कहा कि जमीन मालिकों ने पिछले महीने उनसे संपर्क किया था , जिसके बाद उन्होने उत्तराखंड के मुख्यमंत्री से हस्तक्षेप की मांग की थी । उन्होने कहा ,‘‘ मुझे विश्वास है कि अब किसानों के साथ न्याय सुनिश्चित किया जाएगा और उनके खिलाफ जारी किए गए सभी मनमाने आदेश वापिस लिए जाएंगें’’। शिरोमणी अकाली दल के प्रतिनिधिमंडल में बलविंदर सिंह भूंदड़, प्रो. प्रेम सिंह चंदूमाजरा,एनके शर्मा, परमबंस सिंह रोमाणा  कंवरजीत सिंह बरकंदी और बाबा तरसेह सिंह नानकमत्ता, डेरा कार सेवा वालेभी शामिल थे।

About admin

Check Also

सवर्गीय राजा वीरभद्र सिंह की पुण्यतिथि के मौके पर दौड़ का किया गया आयोजन

आज हिमाचल प्रदेश के 6 बार के मुख्यमंत्री रहे सवर्गीय राजा वीरभद्र सिंह की पुण्यतिथि …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *